योगिता,पीयूष और दीपांशु के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज
August 10, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 10 अगस्त 2020, चंडीगढ़। किसी मसाला काल्पनिक फिल्म की तरह साजिशन, तथ्यों से परे झूठी-सच्ची कहानियां फैलाकर, आईएमजी वेंचर्स के प्रमोटर, श्री सन्नी वर्मा का नाम और प्रतिष्ठा बुरी तरह से तबाह करने का प्रयास किया गया। अब, श्री सन्नी वर्मा ने अब जवाबी कार्रवाई करते हुए इस साजिश में शामिल सभी लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का रास्ता चुना है। उन्होंने दीपांशु मेनारिया, निवासी, रावतभाटा (राजस्थान) और आईएमजी वेंचर्स के पूर्व मॉडल, दिल्ली निवासी योगिता भ्याना, सोशल एक्टिविस्ट, हिसार निवासी सोशल एक्टिविस्ट पीयूष मोंगा के खिलाफ साजिश कर झूठे आरोप लगाने, ब्लैकमेल करने, साइबर बुलिंग, इंटरनेट हरासमेंट आदि कई धाराओं के तहत मामला दर्ज करवाया है।
सार्वजनिक तौर पर आईएमजी वेंचर्स के प्रमोटर की प्रतिष्ठा को जानबूझकर खराब करने के उद्देश्य से पूरी तरह से झूठे आरोप लगाए गए, जिनका कोई आधार ही नहीं था। उसके बाद इन झूठे आरोपों को लेकर सोशल मीडिया में भी एक झूठा अभियान संगठित तौर पर चलाया जा रहा है। अपने खिलाफ लग रहे इन झूठे आरोपों की सच्चाई सामने लाने के लिए प्रमोटर सन्नी वर्मा के पास अपना बचाव करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है। आईएमजी वेंचर्स के एक चल रहे शो-मिस्टर एंड मिस एशिया ग्लैमर 2020 पर भी सीधा हमला किया जा रहा है, जो कि वर्तमान में कोविड वायरस के प्रसार के समय खास तौर पर नुक्सान पहुंचाने के लिए किया जा रहा है। जबकि ये शो लगातार लोकप्रियता हासिल कर रहा है और ऑनलाइन और सोशल मीडिया पर ये काफी अधिक प्रसार हासिल कर रहा है।


मामले के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए एडवोकेट अजय चौधरी ने कहा कि "कानून लोगों की रक्षा के लिए है और साइबर बुलिंग के नाम पर किसी भी ब्लैकमेलिंग या साजिश को सहन नहीं किया जा सकता है। इस झूठे अभियान के खिलार्फ धारा 499 के तहत आपराधिक मानहानि का मामला, पंचकुला (हरियाणा) अदालत में आज दायर किया गया है। योगिता भ्याना, पीयूष मोंगा, दीपांशु मेनारिया नाम के सभी 3 आरोपियों के खिलाफ, कम से कम 1.5 करोड़ रुपए की मानहानि का दावा किया गया है।
दो अभियुक्तों को पूर्व में भी कानूनी नोटिस जारी किए गए थे, लेकिन इससे उन्होंने सन्नी वर्मा के प्रति नेगेटिव ट्रोलिंग और हरासमेंट को और भी अधिक बढ़ा दिया और लगातार परेशान करना शुरू कर दिया।
आईएमजी वेंचर्स को भारत की उन अग्रणी कंपनियों में से एक माना जाता है जो नए मॉडल की ट्रेनिंग और ग्रूमिंग प्रदान करती है। कंपनी को पिछले 2 महीनों से ट्रोल किया जा रहा था। दो महिला कर्मचारियों को भी धमकाया गया, सभी आरोपियों द्वारा एक ही झूठे मामले के तहत परेशान किया जा रहा है।
सन्नी वर्मा ने कहा कि "हर कोई जानता है कि ग्लैमर इंडस्ट्री और बॉलीवुड इंडस्ट्री के लोगों से इस तरह की बुलिंग और उत्पीड़न इन दिनों लोगों का व्यवसाय और रूझान बन रहा है। मैं पूरे मजबूत विश्वास के साथ कानून का सम्मान करता हूं और एनजीओ के नाम पर किसी भी तरह की ब्लैकमेलिंग के आगे अपना सिर नहीं झुकाऊंगा। मैं इंसाफ के लिए हार भी नहीं स्वीकार कर सकता हूं और सोशल नेटवर्क पर ट्रोलिंग मेरी सत्य और इंसाफ की लड़ाई को रोक नहीं सकता है। ना ही कोई मेरे दृढ़ संकल्प को रोक सकता है। आईएमजी वेंचर्स हमेशा की तरह सबसे अच्छा काम करेगा।
उन्होंने आगे कहा "मिस्टर एंड मिस एशिया ग्लैमर 2020 के लिए किसी भी सेलिब्रिटी या पार्टनर या किसी सहयोगी को नहीं रखा गया है, जिसका इस सोशल मीडिया और ऑनलाइन ट्रोलिंग और इस मामले से कोई संबंध नहीं है। वे इससे संबंधित किसी भी मामले से जुड़े हुए नहीं हैं। सभी इंडस्ट्री एसोसिएशनें प्रोफेशनल आधार पर आईएमजी वेंचर्स के साथ मजबूती के साथ खड़ी हैं।