शराब के दाम दुगने करना देशद्रोही केजरीवाल की कोरोना महामारी फैलाने की नयी साजिश : दारा सेना
May 6, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 07 मई  2020, नई दिल्ली। धर्मरक्षक श्री दारा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मुकेश जैन की अध्यक्षता में हुई हिन्दू संगठनों की बैठक में दिल्ली में केजरीवाल द्वारा शराब की दुकानों को खोलने और शराब के दाम दुगने करना चिन्ताजनक बताया और इसे देशद्रोही केजरीवाल-मनीष सिसौदिया  के टुकड़े-टुकड़े गैंग द्वारा कोरोना फैलाने की सोची-समझी साजिश का हिस्सा बताया। 


बैठक में दारा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मुकेश जैन ने बताया कि हमारे पास शिकायत आयी है कि काफी गृहणियों से उनके पति जबरन रुपये छीन कर ले गये और अब उनके पास नून-तेल खरीदने के इतने भी पैसे नहीं है कि बच्चों को खाना खिला सके। उन्हें मजबूरन केजरीवाल की स्कूलों में चलायी जा रही उन रसोईयों का कोरोना फैलाने वाला खाना खाने के लिये मजबूर होना पड़ रहा है, जिनमें केजरीवाल छांट-छांट कर उन मुस्लिमों से रसोई बनवा रहा है जो शौच जाने के बाद साबून से हाथ भी नहीं धोते। जबकि हम हिन्दू गृहणियां सुबह स्नान करने के बाद ही रसोई बनाती हैं।
श्री जैन ने कहा कि सी आई ए का ऐजेन्ट केजरीवाल खूंखार नक्सली ईसाई आतंकवादी है। नक्सली ईसाई आतंकवादी टुकड़े- टुकड़े गैंग की सरगना अरूणा राय इस देशद्रोही की गुरू है। एक दिन में ही हमारे 76 सैनिकों को मरवाने वाले और देशद्रोह के जुर्म में आजीवन सजायाफ्ता खूंखार नक्सलवादी ईसाई आतंकवादी बिनायक सेन की रिहाई के लिये 28 जनवरी 2008 और 27 दिसम्बर 2010 को अरूणा राय ने केजरीवाल स्वाति मालीवाल और मनीष सिसौदिया के साथ मिलकर सरकार को ज्ञापन दिया था। इसी ईसाइ्र आतंकवादी गैंग के 600 देशद्रोहियों ने 10 दिसम्बर 2019 को नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में सरकार को ज्ञापन दिया था। 
बैठक में दारा सेना के राष्ट्रीय महामंत्री और बिग बाॅस के सुपर हीरो स्वामी ओम जी ने कहा कि केजरीवाल सरकार का बजट बिगाड़कर दिल्ली को कंगाल बना चुका केजरीवाल शराबियों की बेतहासा भीड़ शराब की दुकानों पर जुटाकर कमाई नहीं दिल्ली के जरिये कोरोना महामारी फैलाकर भारत को भी अमेरीका और इंग्लैण्ड बनाने में जुटा हुआ है। सबसे पहले टुकड़े-टुकड़े गैंग से जुड़े और प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की हत्या के साजिशकर्ता प्रकाश करात के साथ मिलकर केजरीवाल, अरूणा राय, हर्ष मन्दर, अग्निवेश, सीताराम येचुरी, वृन्दा करात, फादर पीटर डिमेलो आदि ने नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में शाहीनबाग सहित देश के सैकड़ों स्थानों पर कोरोना ग्रस्त वेश्याऐं भेजकर और मरकज निजामुद्दीन के कोरोनाग्रस्त फिदायीन भेजकर पूरे देश को कोरोना की चपेट में ले लिया। उसके बाद दिल्ली दंगे करवाने के लिये केजरीवाल ने अपने गुर्गे ताहिर हुसैन के जरिये हिन्दुओं पर कोरोना ग्रस्त पत्थर फिकवायें जिन्हे वापिस ताहिर हुसैन पर फैंकने वाले हिन्दू कोरोना की चपेट में आ गये। उसके बाद केजरीवाल गैंग द्वारा आनन्द बिहार और बान्द्रा मुम्बई में भीड़ जुटायी गयी,प्रवासी मजदूरों को लोकडाउन तुड़वाकर कोरोना फैलाने के लिये उकसाया गया। इतना ही नहीं केजरीवाल गैंग के प्रशान्त भूषण, हर्ष मन्दर, अग्निवेश, योगेन्द्र यादव सर्वोच्च न्यायालय में याचिकायें लगाकर तरह- तरह से कोरोना फैलाने की साजिश रच रहे हैं। स्वामी ओम जी ने साफ किया केजरीवाल की कोरोना फैलाने की इस साजिश में वेटिकन के नेतृत्व में नक्सली ईसाई आतंकवादियों की सरगना सोनिया गांधी भी सपरिवार प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की कोरोना के खिलाफ लड़ी जा रही लड़ाई को कमजोर करने में लगी है। सोनिया गांधी की किचन कैबिनेट राष्ट्रीय सलाहकार परिषद के खास सिपहसालार फादर पीटर डिमेलो ने जिस प्रकार से पालघर में अपने नक्सली ईसाई आतंकवादियों द्वारा हिन्दू सन्तों की वीभित्स नृशंस हत्या करायी और इस हत्या को इसी गैंग के मीडिया ने मुस्लिमों का कृत्य बताकर देश में हिन्दू-मुस्लिम दंगा कराकर कोरोना फैलाने की साजिश रची वह पूरे देश ने देखा ही है। हाल ही में टुकड़े- टुकड़े गैंग के साथ मिलकर सोनिया गैंग ने जिस प्रकार से आरोग्य सेतु एप के खिलाफ बेबुनियाद आरोप लगाये और बिना टिकट का पैसा लिये प्रवासियों को उनके घरों तक छोड़े जाने पर भी प्रवासियों के भड़काने की साजिश रची उससे जाहिर है कि देशद्रोही ताकते केजरीवाल की अगुवाई में कोरोना फैलाने के नये-नये मौके तलाश रही है। 
हिन्दू संगठनों ने आश्चर्य जताया कि उपराज्यपाल श्री अनिल बैजल ने केजरीवाल के इस देशद्रोही गैंग की दिल्ली को महामारी में झौकने की साजिश से जिस प्रकार से आंखे मूंद ली है, उसके कारण दिल्ली कोरोना की चपेट में सबसे ज्यादा आया है। उससे अब दिल्ली वासियों को दिल्ली छोड़ कर कहीं सुरक्षित स्थान पर चले जाना ही बेहतर होगा। जब देश का संविधान और कानून बनाने वाले नेताओं अपने द्वारा बनाये कानून और नियमों को समझ सके और उन्हे उनके द्वारा बनाये कानून का अर्थ टुकड़े-टुकड़े गैंग के हाथों का खिलौना बने सर्वोच्च न्यायालय के जज और उनका गुलाम व प्रशान्त भूषण की रखैल बना सर्वोच्च न्यायालय का मीडिया और उसके भड़वे पत्रकार बतायेगें तो ऐसे संविधान और कानून का वास्तविक अर्थ समझकर भी समझने में असमर्थ नेता नेतृत्व की शक्ति खो देते है।
हिन्दू संगठनों ने केन्द्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह जी से अनुरोध किया कि वें दिल्ली में शराब की दुकानें और स्कूलों में बनाये जा रहे कोरोना फैलाने वाले खाने पर तत्काल रोक लगाये। इसी के साथ तुरन्त महामहिम उपराज्यपाल को पूर्व की तरह ही दिल्ली की सत्ता को अपने हाथ में लेने का आदेश दें और अब यदि केजरीवाल का देशद्रोही गैंग सर्वोच्च न्यायालय में जाता है तो वहा उसे कोई राहत नहीं मिलने वाली क्योंकि जजों को फिरौती देने वाले प्रशान्त भूषण, हर्षमन्दर, केजरीवाल गैंग को वहां अब लगातार मुंह की खानी पड़ रही है। 
हिन्दू संगठनों ने प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी और केन्द्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह जी को चेताया कि सरकार का शराब के जरिये राजस्व जुटाने का निर्णय गलत है। इससे देश में जहां कोरोना महामारी तेजी से फैलेगी वहीं इससे शान्त वातावरण में सात्विक तरीके से शान्तिपूर्वक रह रहे घर परिवारों में भी कलह और झगड़े बढ़ेगें। इसी के साथ-साथ देश में अपराधों में भी बढ़ोत्तरी होएगी। हिन्दू संगठनों ने सरकार से अनुरोध किया कि जैसे तमिलनाड़ू सरकार ने हिन्दू मन्दिरों को 10 करोड़ रुपये देने का फरमान सुनाया वैसे ही केन्द्र सरकार जितनी भी विदेशी फंडिंग एन जी ओ के खातों में है उसे पीएम केयर फंड में डालने का प्रस्ताव पारित करे। इसी के साथ-साथ अंग्रेजी राज जाने के बाद भी सरकारी जमीन पर कब्जा जमाये बैठी मिश्निरियों के कब्जे की जमीनों को भी बेचकर राजस्व जुटाया जाये।इसी के साथ नक्सली ईसाई मिश्निरियों के अस्पतालों और स्कूलों का राष्ट्रीयकरण करके इनकी अंधाधुन्ध कमाई व डोनेशन को भी जब्त करके कोरोना के लिये राजस्व जुटाये। इससे लगातार कोरोना फैलाने में जुटे वेटिकन से संचालित इस नक्सली ईसाई आतंकवादी टुकड़े- टुकड़े गैंग को भी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अपार शक्ति को समझने का मौका मिलेगा।