सीटू कार्यकर्ताओं ने कहा गरीब जरूरतमंदो पर लाठियां मत चलाओ : गंगेश्वर दत्त शर्मा
April 15, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार बुधवार 15 अप्रैल 2020 नोएडा। बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी की 129 वी जयंती की जनपद वासियों को बधाई और हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा ने कहा कि 14 अप्रैल 2020 बाबा साहब की जयंती आज हम ऐसे समय में मना रहे हैं जब देश में कोराना महामारी के कारण लॉक डाउन चल रहा है और देश में करोड़ों करोड़ लोग दो वक्त की रोटी को मोहताज हो गए हैं इस लॉक डाउन से प्रभावित गरीब लोगों को राहत देने की बात तो सरकार द्वारा बार-बार कही जा रही है लेकिन वह जमीन पर सच्चाई से बहुत दूर नजर आ रही है नोएडा औद्योगिक शहर है यहां मजदूरों की संख्या भी बहुत बड़ी है उसके लिए प्रशासन पूरी तरह राहत के इंतजाम करने में विफल हो रहा है कल शाम सेक्टर 8 झुग्गी बस्ती में प्रशासन द्वारा कुछ राशन की किट पहुंचाई गई थी जरूरतमंदों की संख्या ज्यादा थी, लंबी लाइन में मदद पाने के इंतजार में खड़े जरूरतमंदों पर पुलिस द्वारा बुरी तरह लाठियां बरसाई गई जिसकी हम सीटू संगठन की ओर से कड़ी निंदा करते हैं आप उनके लिए भोजन की व्यवस्था तो कर नहीं पा रहे हैं उन पर लाठियां तो मत चलाओ इसी तरह और भी कई जगह ऐसी घटनाएं देखने/सुनने को मिल रही है। वही इस बुरे वक्त में कुछ अधिकारी, पुलिस कर्मी जनता की जी जान लगाकर मदद कर रहे हैं उनकी जितनी भी प्रशंसा की जाए वह कम है।


साथ ही उन्होंने बताया कि लॉक डाउन से प्रभावित मजदूरों को मदद पहुंचाने के अभियान के क्रम में आज भी सीटू संगठन की ओर से दर्जनों जरूरतमंद परिवारों को राशन सामग्री की किट देकर मदद देने का प्रयास किया गया और यह प्रयास हमारा आगे भी जारी रहेगा।
सीपीआईएम व सीटू कार्यकर्ताओं ने सेक्टर 8 नोएडा कार्यालय पर कॉमरेड भीखू प्रसाद के नेतृत्व में बाबा साहब का जन्मदिन बहुत ही सादगी पूर्ण तरीके से मना कर उन्हें याद कर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। इस अवसर पर बोलते हुए सीपीएम नेता भीखू प्रसाद ने कहा की आज हमें विभिन्न चुनौतियों का सामना करना होगा। इन चुनौतियों का सामना करने के बिना और समस्याओं का समाधान किए बिना हम अंबेडकर साहब के सपनों का भारत नहीं बना सकते उनके सपनों को पूरा नहीं कर सकते। हमें जातिवाद से लड़ना है, सांप्रदायिकता से लड़ना है, सड़े हुए पूंजीवाद से लड़ना है,ऊंच-नीच की और बड़े छोटे की मानसिकता से लड़ना है और जनता की टूट से लड़ना है उसके बिखराव से लड़ना है हमें इन सब मुद्दों पर जनता को एक करना होगा और मिलजुलकर लड़ाई लड़नी होगी, तभी अंबेडकर के सपनों का भारत बनाया जा सकता है।