ससुरालियों पर दहेज उत्पीड़न सहित कई धाराओं में मामला दर्ज
November 24, 2019 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार रविवार 24 नवंबर 2019 (दुर्गेश कश्यप) मौदहा,हमीरपुर। सरकार जहां एक ओर बेटी बचाओ बेटी पढाओ का नारा लगाते हुए नहीं थक रही है।तो वहीं बेटियों के ऊपर होने वाले अत्याचार की घटनाओं में भी तेजी से बढोत्तरी दर्ज की गई है।कस्बे के मोहल्ले मराठीपुरा निवासी प्रीति धुरिया पुत्री दीपक धुरिया ने कोतवाली मौदहा मे दिये अपने शिकायती पत्र में बताया है कि उसकी शादी दिनांक 20/04/2018को हिन्दू रीति रिवाज के साथ हुई थी।और उसके पिता ने अपनी हैसियत के अनुसार दहेज दिया था।लेकिन ससुराल वालों को इससे संतुष्टि नहीं हुई।उसके कुछ समय पश्चात उसके पति के मामा विनय कुमार पुत्र शिवबली निवासी थाना पहाड़ी जनपद महोबा आये।और कम दहेज की बात कही तथा बताया कि जब आना तो एक आल्टो कार और एक लाख रुपये का प्रबंध कर के आना।इस पर मेरे पिता ने असमर्थता जताई।तो दिनांक 17/12/18 को रात करीब नौ बजे मेरी सास और पति ने मुझे लात घूंसों से मारा जिसके कारण मेरे गंभीर चोटें आईं थीं।तब से मै अपने पिता के पास ही रह रही हूं।फिलहाल कोतवाली पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए शिवशंकर (पति),रामचंद्र(ससुर),कुंती(सास)व पति के मामा विनय कुमार व मामी गीता के विरुद्ध 498ए,323,504,506,427और दहेज अधिनियम की धारा3,4 के तहत मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।