सकारात्मक ब्रेक्जिट समाचार पाउंड के लिए अनुकूल
October 8, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 8 अक्टूबर 2020, नई दिल्ली। अगस्त के शुरुआत से अब तक जीबीपीयूएसडी (GBPUSD) में 1.54 प्रतिशत की गिरावट आई है और यूके में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों और यूरोपीय संघ व यूके के संबंधों में तनाव आने से जीबीपीआईएनआर (GBPINR) में 3.3 प्रतिशत की बढ़त आई है। बीओई के गवर्नर बेली ने नकारात्मक ब्याज दर के परिदृश्य के संकेत की संभावना जताकर पाउंड की गिरावट में योगदान दिया है। इस स्थिति के बारे में अधिक जानकारी दे रहे हैं एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के रिसर्च एनालिस्ट श्री वकारजावेद खान। यूके कोविड-19 की दूसरी लहर की चपेट में: 28 सितंबर 2020 को यूके में कोरोनावायरस के 4044 नए मामले सामने आए और यह बताता है कि यूके को कोरोनावायरस की दूसरी लहर ने चपेट में ले लिया है। सितम्बर की शुरुआत से ही ब्रिटेन में लगभग 4000 मामले रोज सामने आ रहे हैं। इस बीच, ब्रिटिश स्वास्थ्य मंत्री मैट हैंकॉक ने घोषणा की कि पूर्वोत्तर इंग्लैंड में कोरोनोवायरस के मामलों की संख्या में तेज वृद्धि के कारण वे आगे कानूनी प्रतिबंध लगा सकते हैं।


कोरोनावायरस को काबू करने के लिए लॉकडाउन लगाया और इसकी वजह से 2020 की दूसरी तिमाही (Q2) में आधी अवधि तक लॉकडाउन ही रहा। इससे यूके की अर्थव्यवस्था में दूसरी तिमाही में 20.4 प्रतिशत की गिरावट दर्ज हुई है। इस बीच, अप्रैल-2020 में 20.4 प्रतिशत की गिरावट के बावजूद जून में यूके की अर्थव्यवस्था में 8.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई। जीडीपी में गिरावट में मुख्य रूप से योगदान सेवाओं, निर्माण और उत्पादन क्षेत्रों में गिरावट का रहा था। हालांकि, यूके की जीडीपी में गिरावट उसके विकसित समकक्ष अर्थव्यवस्थाओं में सबसे अधिक थी। यूरोपीय संघ के साथ अंतिम ब्रेक्जिट चर्चा करेगा यूके: यूके और यूरोपीय संघ के 9वें और अंतिम दौर की ब्रेक्जिट चर्चा करने वाले हैं। बाजार की रिपोर्टों के अनुसार दोनों पक्ष अक्टूबर के मध्य में महत्वपूर्ण यूरोपीय संघ शिखर सम्मेलन से पहले किसी तरह की डील तक पहुंचने की उम्मीद कर रहे हैं।
हालांकि, डील की दो मुख्य बाधाएं यह तय करना है कि यूरोपीय संघ से बाहर निकलने के बाद ब्रिटेन का संघ से क्या रिश्ता रहेगा। बाहर निकलने के बाद किन नियमों का पालन ब्रिटेन को करना पड़ेगा। संघ के सदस्य देशों को ब्रिटेन में किस तरह के अधिकार मिलेंगे। इंटरनल मार्केट बिल ने दोनों पक्षों के बीच तनाव को बढ़ाने का काम किया है। इंटरनल मार्केट बिल ब्रिटेन की ओर से किए गए उन समझौतों का उल्लंघन करता है जो उसने यूरोपीय संघ छोड़ते समय संघ से किए थे।
बीओई नवंबर 2020 में बॉन्ड बायबैक प्रोग्राम बढ़ा सकता है: बीओई गवर्नर ने अपनी पिछली बैठक में निगेटिव ब्याज दरों पर संकेत दिया था, लेकिन बाद में उन्होंने निगेटिव ब्याज दरों के परिदृश्य की संभावना को कमजोर कर दिया। निगेटिव ब्याज दरों का कार्यान्वयन केंद्रीय बैंक के लिए एक महत्वपूर्ण प्रश्न बना हुआ है। नीति निर्माताओं से नवंबर में उनके बॉन्ड बायबैक प्रोग्राम को विस्तार करने की उम्मीद है। गवर्नर ने कहा कि संकट से पहले की तुलना में अर्थव्यवस्था 7-10 प्रतिशत कमजोर रहेगी।


आउटलुक: विवादास्पद इंटरनल मार्केट बिल को हाउस ऑफ कॉमन्स में मंजूरी मिल गई और अब मंजूरी के लिए इसे हाउस ऑफ लॉर्ड्स में भेजा जाएगा। ब्रेक्जिट ट्रांजिशन पीरियड खत्म होने के बाद यह बिल ब्रिटेन के चार देशों में फ्री ट्रेड को सुरक्षित रखना चाहता है, लेकिन इस बिल ने यूरोपीय संघ और ब्रिटेन के बीच रिश्तों में खटास पैदा कर दी है। हालांकि, यदि दोनों पक्षों में कोई समझौता होता है, तो आयरिश सीमा समाधान पर अधिकारों की जरूरत नहीं पड़ेगी। एंड्रयू बेली ने पहले निगेटिव ब्याज दरों का संकेत दिया था, लेकिन बाद में इसे ज्यादा महत्व नहीं दिया। फिलहाल तो कुछ समय के लिए ब्याज दरें पॉजिटिव बनी रहेगी और पाउंड के और गिरने की संभावना नहीं है। लेकिन, ब्रिटेन में कोरोनोवायरस मामलों की दूसरी लहर और देश के कुछ हिस्सों में लॉकडाउन की घोषणा के बाद वह नियंत्रित ही रहेगा। इस वजह से जीबीपीआईएनआर स्पॉट (सीएमपी: 94.5) अक्टूबर 2020 के अंत तक 96 के स्तर तक जा सकता है।