रियलमी फोन ने किया रियलमी पेसा और आईसीआईसीआई लोम्बार्ड के बीच साझेदारी
February 21, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार शुक्रवार 21 फरवरी 2020 मुंबई। देश की फाइनेंशियल सर्विसेस में हाल ही में शामिल होने वाली रियलमीपेसा ने आईसीआईसीआई के साथ रणनीतिक साझेदारी की घोषणा की है। इसके तहत रियलमी फोन यूजर आईसीआईसीआई लोम्बार्ड की ऑल रिस्क इंश्योरेंस पॉलिसी में शामिल हो सकेंगे। रियलमीपेसा दिसंबर 2019 में एक संपूर्ण फाइनेंशियल सर्विस प्लेटफॉर्म के रूप में लॉन्च हुई थी और इस नई साझेदारी के साथ यह रियलमी फोन के लिए स्क्रीन प्रोटेक्शन कवर मुहैया कराएगी।


इस पॉलिसी को ग्रुप पॉलिसी के रूप में शुरू किया गया है, जिसे रियलमीपेसा मोबाइल एप के माध्यम से लिया जा सकेगा और यह पूरी तरह डिजिटल होगा व इसके लिए किसी भी प्रकार की कागजी प्रक्रिया नहीं करनी होगी। यह इंश्योरेंस 18 महीने या इससे कम समय के पुराने फोन के लिए 5 मिनट में लिया जा सकेगा, जिसमें एक वर्ष में एक या दो बार स्क्रीन टूटने को कवर किया जाएगा। हालांकि इसका प्रीमियम फोन के मॉडल और यह कितना पुराना है, इसके आधार पर तय होगा। प्रीमियम की शुरुआत मात्र 250 रुपए से होगी। यह फाइनेंशियल सर्विस और मोबाइल सेक्टर में एक अनोखी पहल होगी, जो ग्राहकों की सबसे तकलीफ देह प्रश्न को हल करेगा कि -यदि मेरा फोन टूट गया तो क्या होगा?
इस टाईअप के महत्व पर बात करते हुए आईसीआईसीआई लोम्बार्ड के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर संजीव मंत्री ने कहा कि “भारत के सबसे तेजी से बढ़ते स्मार्टफोन ब्रैंड के साथ हाथ मिलाना हमारे विजन का हिस्सा है, जिसमें हम चाहते हैं कि सभी भारतीयों के लिए इंश्योरेंस उपलब्ध हो। रियलमीपेसा हमें वह प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराता है, जिसमें बड़े शहरों के साथ-साथ मध्यम और छोटे शहरों में भी सस्ते डिजिटल इंश्योरेंस की पहुंच बढ़ाई जा सके, जहां पर शिक्षा और सर्विस का अभाव सबसे बड़ी बाधा हैं। रियलमीपेसा के साथ यह भागीदारी हमारे लिए एक उत्साही कदम है, जिसके तहत पूरे भारत को इंश्योरेंस उपलब्ध कराया जा सके।
इस साझेदारी पर बात करते हुए रियलमी इंडिया के सीईओ माधवसेठ ने कहा कि “रियलमीपेसा एक ऐसा ब्रैंड है, जिसने कुछ करने का साहस दिखाया है और यह हमारे विजन को आगे बढ़ाता है, जिसमें एक ऐसा ब्रैंड स्थापित करना है जो पूरे ईकोसिस्टम के लिए टेक लाइफस्टाइल उपलब्ध करवा सके। हमारे ग्राहक फोन, लैपटॉप, कार, घर, ऑफिस, दुकान आदि जैसी पूंजी जमा करने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। लेकिन यदि कभी चीजें स्थिति विपरीति हो जाएं, तो हम चाहते हैं कि ग्राहकों को इससे उबरने में मदद मिले। हम अपने 1.2 करोड़ यूजर के लिए बेहतर हल उपलब्ध कराना चाहते हैं और आईसीआईसीआई लोम्बार्ड इसके लिए सबसे बेहतर विकल्प था। डिजिटल प्रोडक्ट बनाने और पूरे भारत में सर्विस मुहैया कराने के साथ-साथ बेहतर क्लेम सेटलमेंट रेशो के कारण हमने आईसीआईसीआई के साथ साझेदारी करने का फैसला किया है।
2020 की रणनीति पर बात करते हुए रियलमीपेसा के लीड वरुण श्रीधर ने कहा कि “हमने व्यक्ति तथा छोटे बिज़नेस दोनों को इंश्योरेंस उपलब्ध कराने की योजना तैयार की है। हम लगातार स्वास्थ्य, ट्रैवल, शॉप और होम इंश्योरेंस प्रोडक्ट का अध्ययन कर रहे हैं और देशभर के अपने ग्राहकों से बात कर रहे हैं कि रियलमीपेसा किस प्रकार उनकी बहुमूल्य चीजों का इंश्योरेंस करने में मदद कर सकता है। हमारा उद्देश्य देशभर में हमारे सभी प्रोडक्ट यूजर के लिए एक बेहतर फाइनेंशियल सपोर्ट मुहैया कराना है और इंश्योरेंस इस उद्देश्य का एक अहम पहलू है। पिछले महीने जारी किए गए हमारे बेटा रिलीज से हमें काफी कुछ समझने में मदद मिल रही है और अपने रणनीतिक साझेदार के साथ मिलकर हम फाइनेंशिल मार्केट में आगे भी बेहतर काम करेंगे। हमारा लक्ष्य अगले 2 से 3 साल में 10 लाख भारतीयों को इंश्योरेंस उपलब्ध कराना है।
2020 में रियलमीपेसा और आईसीआईसीआई लोम्बार्ड ने साथ मिलकर व्यक्ति और एसएमई दोनों को इंश्योरेंस उपलब्ध कराने की योजना बनाई है, जिसका उद्देश्य स्पष्ट है कि सभी भारतीयों के लिए इंश्योरेंस सस्ता और सहज बनाया जा सके।