पियरसन प्रोफेशनल सेंटर ने नई दिल्ली में फिर शुरू कीं अपनी सेवाएं
June 5, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 05 जून 2020, नई दिल्ली। पियरसन, विश्व की लर्निंग कंपनी, ने आकांक्षियों द्वारा लैंग्‍वेज प्रोफिशिएंसी टेस्‍ट की मांग को पूरा करने के लिए, नई दिल्ली  में अपने पियरसन प्रोफेशनल सेंटरऔर अधिकृत परीक्षा केंद्रों को फिर से शुरु कर दिया है। सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देशों के अनुसार सोशल डिस्‍टेंन्सिंग और अन्य सुरक्षात्‍मक उपायों का पालन करते हुए सेंटर में टेस्‍ट डिलिवरी फिर से शुरु की जाएंगी। परीक्षा लेनेवाले https://pearsonpte.com/ पर जाकर पीटीई परीक्षा कार्यक्रम तय कर सकते हैं।
परीक्षा केंद्रों के फिर से शुरु किए जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए पियरसन इंडिया के सेल्स एवं मार्केटिंग के वाइस प्रेसिडेंट रामानंद एसजी ने कहा, “हर साल भारत में परीक्षा लेनेवाले हजारों इच्छुक विदेशों में पढ़ने और काम करने की महत्वाकांक्षा रखते हैं। भले ही इस साल कोविड 19 महामारी के कारण उनकी महत्वाकांक्षाओं को झटका लगा है लेकिन अनिश्चितताओँ के बावजूद हाल ही सामने आई रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार भारतीय अपनी योजनाओं को जारी रखना चाहते हैं। इसके साथ ही महामारी ने ऑनलाइन शिक्षा की ओर लोगों काझुकाव बढ़ानेमें बड़ी भूमिका निभाई है और दुनियाभर के कई विश्वविद्यालय उनके पहले सेमेस्टर ऑनलाइन उपलब्ध कराने की योजना बना रहे हैं, ताकि छात्र उनके शैक्षणिक-वर्ष को जारी रख सकें। सरकार के दिशानिर्देशों के अनुसार पियरसन प्रोफेशनल सेंटर और अधिकृत परीक्षा केंद्र को फिर से शुरु करने के पीछे हमारा उद्देश्य परीक्षा लेनेवालों के लिए सुरक्षित वातावरण में इंग्लिश प्रोफिशिएंसी परीक्षा उपलब्ध कराना है ताकि उनका स्थान चाहे जो हो, उनके सीखने की प्रक्रिया बिना रुके जारी रहे।


उन्होंने आगे हुए कहा, “पियरसन में पीटीई परीक्षा लेने वालों, हमारे कर्मचारियों और परीक्षा केंद्र प्रशासकों का स्वास्थ्य और सुरक्षा सुनिश्चित करने पर हमारा प्रमुख ध्यान केंद्रित है। हम रोज़ाना की वैश्विक स्थितियों पर नज़रें बनाए हुए हैं और सक्रिय रुप से सरकार और हेल्‍थकेयर अथॉरिटीज की सलाह का पालन कर रहे हैं। कोविड-19 के फैलाव को रोकने और परीक्षा केंद्र पर उम्मीदवारों और कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए पियरसन प्रोफेशनल सेंटर और अधिकृत परीक्षा केंद्र राज्य सरकार, सीडीसी और विश्व स्वास्थ्य संगठन की सिफारिशों का सख्‍ती से पालन करते हैं।