ऊबर ने रॉबिन हुड आर्मी के साथ भूख से पीड़ितों को निशुल्क भोजन वितरित करने मे मदद
August 14, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 14 अगस्त 2020, नई दिल्ली। ऊबर ने भूख के खिलाफ अभियान छेड़ने वाले स्वैच्छिक संगठन, रॉबिन हुड आर्मी के साथ साझेदारी में भूख से पीड़ितों एवं कोविड महामारी का शिकार हुए लोगों को निशुल्क आहार वितरित किए जाने मे मदद करने की घोषणा की। रॉबिन हुड आर्मी के मोबिलिटी पार्टनर के रूप में ऊबर 2 महीनों तक अपनी साझेदारी की परीक्षण अवधि चरण में इन 10 शहरों में कार्यकर्ताओं को निशुल्क राईडस प्रदान करेगा - दिल्ली-एनसीआर, मुंबई, हैदराबाद, पुणे, बैंगलोर, कोलकाता, अहमदाबाद, जयपुर, जमशेदपुर और चंडीगढ़।
ऊबर रॉबिन हुड आर्मी के कार्यकर्ताओं को निशुल्क राईड प्रदान कर इसके #Mission30M प्रोजेक्ट में भी सहयोग कर रहा है, जो एक नागरिक संस्था द्वारा चलाया गया सबसे बड़ा भोजन राहत कार्यक्रम है। यह प्रोजेक्ट 1 जुलाई को प्रारंभ हुआ था और इसका समापन 15 अगस्त को होगा। इसमें 60,000 से ज्यादा कार्यकर्ता महामारी द्वारा सर्वाधिक पीड़ित 30 मिलियन लोगों को भोजन वितरित कर रहे हैं।


भूख से पीड़ितों को भोजन पहुंचाने के ऊबर के प्रयास के बारे में प्रभजीत सिंह, प्रेसिडेंट, ऊबर इंडिया एवं साउथ एशिया ने कहा, "ऊबर में हम शहरों में भूख की समस्या को समाप्त करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। मौजूदा महामारी के समय यह समस्या और ज्यादा बढ़ी है और इसने भारत में लाखों लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है। हमें रॉबिन हुड आर्मी के साथ सहयोग करने की खुशी है। हम इस मुश्किल दौर में उनका सहयोग कर कमजोर समुदायों को मदद पहुंचा रहे हैं।
नील घोष, संस्थापक, रॉबिन हुड आर्मी ने कहा, "हमें एक बार फिर ऊबर के साथ साझेदारी करने की खुशी हैहमारी साझेदारी से सुनिश्चित हो सकेगा कि हमारे कार्यकर्ता भोजन पहुंचाने के लिए आसान व सुरक्षित रूप से यात्रा कर सकें और लाखों लोगों को भोजन पहुंचाने के अपने उद्देश्य पर केंद्रित रह सकें। महामारी फैलने के बाद ऊबर ने देश में विभिन्न समुदायों एवं राज्य सरकारों का सहयोग करने के लिए अनेक अभियान शुरू किएकंपनी ने देश में नेशनल हैल्थ अथॉरिटी (एनएचए) एवं शहरों व राज्य के प्रशासन को अग्रिम कतार में काम कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों के आवागमन के लिए 280,000 निशुल्क राईड प्रदान कीये राईड ऊबर के सीईओ, दारा खोसरोवशाही द्वारा घोषित उस ग्लोबल अभियान का हिस्सा थीं, जिसके तहत उन्होंने स्वास्थ्यकर्मियों, वरिष्ठ नागरिकों एवं जरूरतमंद लोगों को 10 मिलियन निशुल्क भोजन व राईड प्रदान करने की घोषणा की थी।