नूज़ीलैण्ड भारतीयों का खुले दिल से गुड मॉर्निंग कहके स्वागत करेगा 
January 31, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार शुक्रवार 31 जनवरी 2020 नई दिल्ली। कई संस्कृतियों में प्रकाश ज्ञान-बोध और आध्यात्मिक जगमगाहट का प्रतीक रहा है। भारतीयों ने हमेशा इस सिद्धांत को माना है कि एक नई सुबह एक नई आशा और सकारात्मकता व उत्पादकता से भरा एक नया दिन लेकर आती है। प्राचीन काल से ही भारतीय सूर्य नमस्कार (सूर्य को अभिवादन) से सुपरिचित हैं। यह एक लोकप्रिय योग आसन है, जो इस ग्रह पर जीवन को बनाए रखने को लेकर सूर्य के प्रति कृतज्ञता जताने के लिए जाना जाता है।


इसी तरह, न्यूजीलैंड भी सुबह का कीर्तिगान करता है, और इसे दर्शाने के लिए टूरिज्म न्यूजीलैंड ने भारत में अपना नया ग्लोबल ब्रांड मार्केटिंग अभियान - '100% प्योर वेलकम - 100% प्योर न्यूजीलैंड’ लॉन्च किया है। न्यूजीलैंड उन चुनिंदा जगहों में से एक है, जहां नए दिन की पहली किरण सबसे पहले पड़ती है। इस तथ्य से प्रेरित होकर टूरिज्म न्यूजीलैंड ने '100% प्योर वेलकम - 100% प्योर न्यूजीलैंड' के तहत प्रचार सामग्रियों की एक श्रृंखला जारी की है। इसमें स्थानीय लोग आगंतुकों को देशभर में उनकी पसंदीदा जगहों से 'गुड मॉर्निंग वर्ल्ड' के संदेश देते नजर आते हैं। अभियान दिखाता है कि कैसे गर्मजोशी से भरपूर दोस्ताना लोग, हैरान कर देने परिदृश्य और शामिल होने के लिए ढेर सारी तरह-तरह की गतिविधियां न्यूजीलैंड को एक अनूठा अवकाश गंतव्य बनाती हैं।
टूरिज्म न्यूजीलैंड की रीजनल कंज्यूमर मार्केटिंग मैनेजर (एशिया) सुश्री वेनेसा चेन न्यूजीलैंड की पेशकशों के बारे में वास्तविक अंतर्दृष्टि साझा करने वाले अभियान की शुरुआत को लेकर उत्साहित हैं। वे कहती हैं, “माओरी संस्कृति में भोर (उदय) न का एक महत्वपूर्ण समय होता है - हर सुबह हम जीवन और नई शुरुआत का जश्न मनाते हैं। हर सवेरे के साथ हम उसकी क्षमता को स्वीकार करते हैं।
वैश्विक ब्रांड मार्केटिंग पहल के एक हिस्से के रूप में 'गुड मॉर्निंग वर्ल्ड’ सामग्री श्रृंखला का उद्देश्य अद्‌भुत दृश्यावलियों और उन गतिविधियों के बारे में बताना है जिनका आगंतुक आनंद ले सकते हैं। इसके साथ ही यह स्थानीय लोगों की गर्मजोशी भी साझा करता है। यह सामग्री श्रृंखला हमारे लोगों के गर्मजोशी भरे और स्वागत करने वाले स्वभाव को उजागर करने का हमारा अपना अनूठा तरीका है। हमने दुनिया के लिए अपने दिल और घर के दरवाजे खोल रखे हैं। हम न्यूजीलैंड में अविस्मरणीय अनुभव के लिए उनका स्वागत करते हैं। इसलिए हम भारतीय यात्रियों को हमारे देश की यात्रा के लिए प्रोत्साहित करना चाहते हैं।
ब्रांड के सोशल प्लेटफॉर्म पर एक इंस्टाग्राम वीडियो के माध्यम से न्यूजीलैंड के क्रिकेटरों मिशेल मैक्‍लेंघन और कॉलिन मुनरो ने ऑकलैंड के वाइहेके टापू पर घर के पिछवाड़े में क्रिकेट खेलने के अनुभव साझा किए। यह न्यूजीलैंड में बैकयार्ड क्रिकेट कहलाता है, जो कि भारत के गली क्रिकेट का ही एक रूप है। यह वीडियो विशेष रूप से भारत में ब्रांड लॉन्च के लिए तैयार किया गया है।
ब्रांड लॉन्च के साथ ही टूरिज्म न्यूजीलैंड और इमिग्रेशन न्यूजीलैंड ने टूरिज्म इंडस्ट्री पार्टनरशिप (टीआईपी) कार्यक्रम का विस्तार भी किया, ताकि छुटि्टयां बिताने के लिए न्यूजीलैंड जाने वाले भारतीय यात्रियों के विजिटर वीजा आवेदनों की तीव्र प्रोसेसिंग को बढ़ावा दिया जा सके।
घोषित इस नई व्यवस्था के जरिए भारतीय पर्यटक यात्रियों को सात कार्य दिवसों के तेज प्रोसेसिंग समय के साथ एक ज्यादा सुव्यवस्थित वीजा सेवा का लाभ मिलेगा। इस नए अनुबंध के बारे में टूरिज्म न्यूजीलैंड के रीजनल ट्रेड मार्केटिंग मैनेजर (एशिया) श्री स्टीवन डिक्सॅन ने कहा, “पिछले पांच वर्षों में हमारी मौजूदा साझेदारी की सफलता के आधार पर इस कार्यक्रम का विस्तार किया गया है। हम कुलिन कुमार हॉलीडेज प्रा.लि., एसओटीसी ट्रैवल और थॉमस कुक इंडिया के साथ अपने निरंतर जारी सहयोग के लिए कृतज्ञ हैं और हम फ्लेमिंगो ट्रांसवर्ल्ड प्रा.लि., केसरी टूर्स प्रा.लि. तथा वीणा वर्ल्ड को जोड़ते हुए और भी ढेर सारे हिंदुस्तानी पर्यटकों के स्वागत के लिए उत्सुक हैं। तीन नए पार्टनर्स के चलते अब भारतीय आगंतुकों को पूरे भारत में 60 अतिरिक्त स्थानों पर शीघ्रता से विजिटर वीजा प्रोसेसिंग की सुविधा मिल सकती है।
टूरिज्म इंडस्ट्री पार्टनरशिप की शुरुआत मूलत: नवंबर 2014 में हुई थी। पहले साल में यह केवल इंसेंटिव वीजा के लिए मान्य थी, तब कुल 876 आवेदनों पर कार्रवाई की गई थी। पिछले साल, जून 2018-जुलाई 2019 की अवधि के दौरान इस गठबंधन के तहत 5,000 से अधिक (5,492) आवेदनों (जिनमें इंसेंटिव और अवकाश वीजा शामिल थे) को संसाधित किया गया। पहले वर्ष की तुलना में यह 627% की सकारात्मक वृद्धि है।
इस साझेदारी पर इमिग्रेशन न्यूजीलैंड की ऑपरेशंस हेड, सुश्री मार्सेले फोली ने कहा, "पिछले पांच वर्षों में टीआईपी कार्यक्रम को मिली कामयाबी इमिग्रेशन न्यूजीलैंड (INZ) के लिए बेहद खुशी की बात है। हमारी साझेदारी का विस्तार और इसमें ज्यादा ट्रैवल एजेंटों को जोड़ना एक सकारात्मक विकास है।