नोएडा ग्रैंड मैराथन के चौथे संस्करण में 3500 से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया
February 21, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार शुक्रवार 21 फरवरी 2020 नोएडा। नोएडा ग्रैंड मैराथन के चौथे संस्करण में नोएडा, दिल्ली, ग्रेटर नोएडा, इंदिरापुरम, एनसीआर और यहां तक कि पड़ोसी राज्यों के 3500 से अधिक लोगों ने सहभागिता की। पिकू स्पोर्ट्स की एक पहल, कोवेस्ट्रो द्वारा प्रस्तुत नोएडा ग्रैंड मैराथन का उद्देश्य लोगों को स्वस्थ जीवन शैली अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना है।
कोवेस्ट्रो परिवार के 200 से अधिक सदस्यों ने इस वार्षिक एक्स्ट्रावेगेंजा के लिए उत्साह और समर्थन दिखाने के साथ-साथ मैराथान में हिस्सा लिया। मैराथन की शुरुआत सेक्टर 128 में जेपी अस्पताल से हुई और इसमें प्रतिभागियों को 3 किलोमीटर, 5 किलोमीटर, 10 किलोमीटर और 21.1 किलोमीटर के हॉफ मैराथन की श्रेणियों में हिस्सा लेने का मौका मिला। इसके साथ ही 50 किलोमीटर तक के साइकलिंग इवेंट के लिए एक अलग कैटेगरी के साथ ही 3 किलोमीटर  और 5 किलोमीटर के वाकथॉन भी आयोजित किए गए थे।

साल भर में ये मैराथन पूरे देश में एक लोकप्रिय खेल आयोजन बन गया है और अक्सर इसे सामुदायिक उत्सव के रूप में माना जाता है। श्री दीपक कुमार मेहरा, पीकू स्पोर्ट्स ने कहा कि “नोएडा ग्रैंड मैराथन के चौथे वर्ष होने के नाते, हम इसे बड़ा और बेहतर बनाने के लिए पूरी तरह से आश्वस्त थे। साल दर साल, हमने इस आयोजन में भाग लेने वाले लोगों की संख्या में वृद्धि देखी है। नोएडा ग्रैंड मैराथन को लेकर सभी आयु वर्ग के लोगों को उत्साहित देखना और पूरे उत्साह के साथ भाग लेना बहुत उत्साहजनक है। उचित सुरक्षा उपाय और चिकित्सा सहायता के साथ, हम 5वें संस्करण के लिए तत्पर हैं और आने वाले वर्षों में और भी अधिक प्यार और समर्थन मिलना सुनिश्चित है।”
वहीं इस मौके पर श्री आनंद श्रीनिवासन, एमडी, कोवेस्ट्रो (इंडिया) ने कहा कि “नोएडा ग्रैंड मैराथन में 200 से अधिक कोस्ट्रो परिवार के सदस्यों से सक्रिय भागीदारी देखना अद्भुत है। यह एक ऐसा आयोजन है जो हम पूरे वर्ष के लिए तत्पर हैं और इस समय हमारे पास उनमें से कई थे जो पहली बार धावक बने थे। हमारा मानना है कि मैराथन और अन्य समान कार्यक्रमों में कर्मचारियों की भागीदारी कार्यस्थल पर उत्पादकता में सुधार करती है क्योंकि यह टीम को प्रेरित करने और एकजुट करने का एक शानदार तरीका है। हम भविष्य में इस तरह की पहल करते रहेंगे, क्योंकि कोवेस्ट्रो में हमारे कई सदस्यों के लिए यह एक शानदार अनुभव है।
जैसे ही नोएडा ग्रैंड मैराथन संपन्न हुआ, एकत्र प्रतिभागियों ने अपने अनुभवों के बारे में भी बताया। इस मैराथन में ऐसे धावकों की भी बड़ी संख्या थी जो कि पहली बार धावक बने थे, कई लोग पूरी तरफ से फिट नहीं थे, माता-पिता-बच्चे भी एक साथ शामिल होने के लिए आए थे। वहीं लगातार तीसरे और चौथे वर्ष भी दौड़ने के लिए आए थे। उनमें से कई ने अपने अपने लक्ष्य निर्धारित किए थे जो उन्होंने सफलतापूर्वक हासिल किए।