किसान संघर्ष समिति नोएडा द्वारा सांसद एवं पूर्व मंत्री डा.महेश शर्मा को ज्ञापन सौंपा
February 19, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार बुधवार 19 फरवरी 2020 (ऐ के लाल) नोएडा। किसान संघर्ष समिति नोएडा द्वारा माननीय सांसद एवं पूर्व मंत्री भारत सरकार डा.महेश शर्मा को ज्ञापन सौंपा जिसमें किसानों द्वारा किसान संघर्ष समिति के तत्वाधान में 30.06.2011 के लिए बनाये गये कार्यवृत्त को लागू करने के संबंध में अवगत कराया। नोएडा गौतमबुद्धनगर की मूल आबादी को तथाकथित अवैध कब्जे को लेकर नोएडा से संबंधित अधिकारियों द्वारा ध्वस्तीकरण नोटिस जारी कर गांव में अतिक्रमण हटाने के फैसले की निस्पक्ष जांच कर पुरानी आबादी की भूमि की परिसम्पतियों को अर्जनमुक्त किये जोन के संबंध में।


किसानों द्वारा कहा गया कि किसी भी गावं में किसान की आबादी की भूमि जहां है जैसी है उसी के आधार पर छोडी जाय। 64.7 प्रतिशत मुआवजा उन्ही किसानों को दिया जाये जिनको कोर्ट द्वारा निर्देशित किया गया था परन्तु वह किसान कहां जाये जिसके पास कोर्ट जाने के लिए पैसा नहीं है और न ही उसकी ऐसी स्थिति है कि कोर्ट के चक्कर काट सकें ऐसे किसानों को भी उसी कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए प्राधिकरण को उनको भी उन किसनों को भी 10 प्रतिशत का लाभ देना चाहिए। प्राधिकरण की 186वीं बोर्ड बैठक में किसानों को छूट दी गयी थी परन्तु प्राधिकरण द्वारा नोटिस दिए जा रहें है। किसानों ने अपनी सभी बातों को सांसद जी के सामने रखा और कहा कि हमारी इन सभी समस्याओं का समाधान जो काफी लंबे समय से चलती आ रही है जिसका निस्तारण प्राधिकरण द्वारा अभी तक नही किया गया। हम आपसे आशा ही नही उम्मीद करते है कि आप हमारे क्षेत्र की समस्या का समाधान करायेंगें। मा0 सांसद ने कहा कि आपके द्वारा जो भी समस्याएं मेरे सामने उठायी गयी है मैं आपकी बातों को सुनकर बिल्कुल संतुष्ट हूँ और समय समय पर हम भी अधिकारियों से वार्ता कर क्षेत्र के किसानों की समस्याओं को उठाते रहते है कई बार मुख्यमंत्री जी से भी वार्ता की है जल्द ही इस विषय को लेकर अधिकारियों से और मुख्यमंत्री जी से वार्ता कर इसका समाधान निकाला जायेगा। आपके द्वारा जो ज्ञापन मुझे सौपा गया है उसमें जल्द कार्यवाही की जायेगी ।मैं, सदैव क्षेत्र के किसानों के हितों को लेकर कार्य करूंगा।
इसके दौरान अध्यक्ष दलबीर सिंह, मनोज चौहान, सूबे यादव, आर एस यादव, रामनिवास यादव, राम सिंह, कोसिन्दर यादव, परविन्दर यादव, धर्मपाल, संजय शर्मा, सुभाष, संजीव यादव, राहुल यादव, बी एस शर्मा, रवि यादव, ज्ञानेन्द्र सिंह, इन्दर सिंह, वी वी सिंह, मनोज चौहान समेत अन्य किसान उपस्थित रहें।