कैमस्कैनर अब चार क्षेत्रीय भाषाओं में भी उपलब्ध
February 21, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार शुक्रवार 21 फरवरी 2020 नई दिल्ली। दुनियाभर के व्यक्तियों, छोटे कारोबारियों, संगठनों, सरकारों और स्कूलों के लिए सबसे लोकप्रिय दस्तावेज प्रबंधन समाधान कैमस्कैनर अब यूजर्स के लिए अंग्रेजी के अलावा चार क्षेत्रीय भाषाओं में उपलब्ध है ताकि यह ऐप टीयर 1 शहरों से बाहर के लोगों तक भी पहुंच बना सके। कैमस्कैनर अब हिन्दी, बंगाली, तमिल और संस्कृत में भी उपलब्ध रहेगा। 


क्षेत्रीय भाषाओं में कैमस्कैनर शुरू होने से नए यूजर्स को जहां अपनी पसंदीदा भाषा चुनने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा, वहीं मौजूदा यूजर्स इसकी सेटिंग्स में जाकर अपनी सुविधानुसार भाषा बदल भी सकेंगे। यह फीचर अब एंड्रायड और आईओएस पर लाइव उपलब्ध है।
इस अपडेट के जरिये कैमस्कैनर ने भारत के अधिक से अधिक स्मार्टफोन उपभोक्ताओं तक अपनी पहुंच का विस्तार कर लिया है, जो क्षेत्रीय भाषाओं में इंटरनेट आधारित सेवाएं प्राप्त करना चाहते हैं। इस प्रकार मोबाइल के जरिये दस्तावेज की स्कैनिंग अब हर किसी के लिए सुलभ हो गई है।
इस बारे में कैमस्कैनर के मार्केटिंग डायरेक्टर मिलर ने कहा, 'कैमस्कैनर का उद्देश्य देश के उभोक्ताओं को हमेशा सर्वश्रेष्ठ अनुभव प्रदान करना रहा है। हम पहले से ही लगभग 10 करोड़ उपभोक्ताओं तक पहुंच बना चुके हैं, लेकिन क्षेत्रीय भाषाओं में इसके शुरू होने से हम उन उपभोक्ताओं को शामिल करते हुए भी बाजार में विस्तार करेंगे जो अपनी मातृभाषा में इस ऐप का इस्तेमाल करना चाहते हैं।'
गूगल प्ले स्टोर, आईओएस ऐप स्टोर पर उपलब्ध कैमस्कैनर 200 से अधिक देशों में 37 करोड़ से अधिक डिवाइसेज पर इंस्टॉल हो चुका है। प्रतिदिन इसके 50,000 से ज्यादा सब्सक्राइबर बनते जा रहे हैं। इससे कैमस्कैनर विश्व का सबसे लोकप्रिय मोबाइल स्कैनिंग एप्लीकेशन बन गया है।