जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने हमीरपुर -जालौन की पुलिस बैरियर व्यवस्थाओं का लिया जायजा
May 17, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, रविवार 17 मई  2020, (आशीष निगम), हमीरपुर। जनपद हमीरपुर मे आज जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी व पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने हमीरपुर के सरसई गांव में  जालौन -हमीरपुर की सीमा में बने पुलिस बैरियर  पर पहुंचकर लॉक डाउन की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान जिलाधिकारी के निर्देश पर जनपद जालौन की ओर से पैदल आ रहे मजदूरों / व्यक्तियों तथा  ट्रको व बसों की छतों पर बैठे सैकड़ों मजदूरों/लोगों को उतारकर प्राथमिक विद्यालय सरसई में रोका गया तथा उक्त सभी लोगों का  नाम ,पता आदि का विवरण अंकित करके उनको रोडवेज हमीरपुर डिपो की बस द्वारा  मजदूरों को उनके गंतव्य स्थान जैसे बांदा ,चित्रकूट, महोबा ,राठ ,फतेहपुर ,सजेती आदि स्थानों पर भेजा गया, जिससे बाहर से आने वाले श्रमिको / व्यक्तियों में खुशी की लहर दौड़ गई और उन्होंने जिला प्रशासन हमीरपुर को धन्यवाद ज्ञापित किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि मजदूरों/ लोगों को  उनके गंतव्य स्थान पर भेजने से पहले उनके लिए कम्युनिटी किचेन  में बने भोजन तथा पानी  आदि की व्यवस्था कर दी जाय।  हमीरपुर जनपद के विभिन्न स्थानों पर जाने वाले मजदूरों/ लोगों को रोडवेज बस के माध्यम से मकराव शेल्टर होम में भेजा गया है जहां उनकी जरूरी जांच की जाएगी। मकराव शेल्टर होम में उनके खाने-पीने आदि सभी प्रकार की व्यवस्था की गई है। इस अवसर पर जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने कहा कि जनपद में बाहर से आने वाला कोई भी  मजदूर पैदल नहीं मिलना चाहिए, पैदल  मिलने वाले मजदूरो /लोगों को तत्काल रोककर उनको बसों के माध्यम से उनके गंतव्य स्थान भेजा जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि ऐसे मालवाहक वाहन जो सवारी बैठा रहे हैं उनको सीज करने की कार्रवाई की जाए। इस मौके पर उप जिलाधिकारी सदर राजेश चौरसिया, पुलिस क्षेत्राधिकारी सदर अनुराग सिंह  आदि मौजूद रहे।
तत्पश्चात जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने  - महोबा सीमा पर स्थित रीवन बैरियर में पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया तथा कहा की पैदल आने वाले लोगों को रोक कर उनको बसों के माध्यम से गंतव्य स्थान भेजा जाए । इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। इस मौके पर उप जिलाधिकारी मौदहा अजीत परेश, पुलिस क्षेत्राधिकारी मौदहा सौम्या पांडे आदि मौजूद रहे।