जिला हमीरपुर में भी धूमधाम से मनाया गया ईसा मसीह का जन्मदिन
December 26, 2019 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार वीरवार 26 दिसम्बर 2019 (आशीष निगम) मौदहा,हमीरपुर। कस्बे सहित क्षेत्र में ईसाई समुदाय का प्रमुख त्योहार क्रिसमस की धूम रही। कल से ही गिरजाघर मे रौशनी की रौनक और जगमगाहट दिखाई देती रही है।बताते चलें कि कस्बे में आजादी से पहले सन् 1936ई. मे कैथोलिक समुदाय के लोगों चर्च का निर्माण कराया था।तब से ईसाई धर्म के प्रमुख ईसा मसीह की पैदाइश को ईसाई धर्म के दोनों समुदायों कैथोलिक और प्रोटेस्टेंट इस दिन को बडा दिन के रूप में मनाते हैं।भौगोलिक दृष्टिकोण के आधार पर देखा जाये तो 23दिसंबर को दिनरात की अवधि बराबर होती है।उसके बाद से दिन बढने लगता है।इस लिए क्रिसमस डे को बडा दिन भी कहा जाता है।ईसाई धर्म के अनुसार ईसा मसीह की पैदाइश आज से सात लाख छत्तीस हजार नौ सौ पैंतीस(7,36,935)दिन पहले हुआ था।और ईसा मसीह ने हमेशा समाज में फैली हुई बुराइयों के विरुद्ध काम किया था।और इसी कारण उन्हें सूली पर चढ़ाया गया था।ईसाई धर्म के लोगों का मानना है कि ईसा मसीह दोबारा धरती पर आने वाले हैं।आज के दिन गिरजाघर और ईसाई समुदाय के लोगों ने अपने घरों को सजाकर सारी रात जश्न मनाया और दिन में गिरजाघर मे जाकर प्रार्थना की।इस दौरान ईसाई समुदाय के अतिरिक्त अन्य समुदाय के लोगों ने भी भाग लिया।