हिन्दू महासभा राष्ट्रीय अध्यक्ष का कार्यकाल एक वर्ष बढ़ाने का प्रस्ताव पारित
September 14, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, सोमवार  14 सितम्बर 2020, नई दिल्ली। अखिल भारत हिन्दू महासभा की राष्ट्रीय कार्यसमिति की वर्चुअल बैठक राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष रविन्द्र कुमार द्विवेदी की अध्यक्षता में संपन्न हुई । बैठक का मुख्य आकर्षण फरवरी 2020 में संपन्न राष्ट्रीय कार्यसमिति में राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी त्रिदंडी जी महाराज का कार्यकाल एक वर्ष बढ़ाने के पारित प्रस्ताव को अनुमोदित करना रहा । स्वामी त्रिदंडी जी महाराज का कार्यकाल अब 1 सितम्बर 2021 तक संवैधानिक रूप से मान्य रहेगा । यह जानकारी हिन्दू महासभा की राष्ट्रीय प्रवक्ता कामिनी झा ने आज जारी बयान में दी ।
कामिनी झा ने बताया कि बैठक का शुभारंभ राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी त्रिदंडी जी महाराज के वीडियो संदेश से आरंभ हुआ, जिसमे उन्होंने पारस्परिक मतभेदों को भुलाकर महासभा को प्रचंड करने का आह्वान किया । बैठक में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आत्माराम तिवारी ने श्रीराम जन्मभूमि मंदिर क्षेत्र ट्रस्ट में हिन्दू महासभा को स्थान न दिए जाने पर अपना आक्रोश प्रकट करते हुए स्थान स्थान पर विरोध कार्यक्रम आयोजित करने का आह्वान किया । उन्होंने दक्षिण भारत के राज्यों में कार्यकर्ताओं के समक्ष आने वाली समस्याओं का उल्लेख करते हुए हिन्दू हितों की रक्षा का संकल्प लेने का आह्वान किया। राष्ट्रीय संगठन मंत्री आचार्य विजय प्रकाश मानव ने कहा कि हिन्दू महासभा के विस्तार में सबका सामूहिक विस्डम योगदान अनिवार्य है । उन्होंने कहा कि हिन्दू महासभा भाजपा की हिन्दू हित और राष्ट्र हित नीतियों का समर्थन एवम् मुस्लिम तुष्टिकरण की नीतियों का विरोध करने की नीति जारी रखेगी । राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री अधिवक्ता संजया शर्मा ने कहा कि संविधान संशोधन समिति की रिपोर्ट को 15 दिन में केंद्रीय कार्यसमिति के समक्ष सार्वजनिक कर दिया जाएगा। उन्होंने हिन्दू महासभा के कार्यकर्ताओं की परिचय पत्र जारी करने की योजना सोमवार 14 सितम्बर से लागू करने की घोषणा की।


राष्ट्रीय प्रवक्ता लखन शर्मा ने भाजपा सरकार की आलोचना करने के स्थान पर हिन्दू महासभा का जनाधार मजबूत बनाने और राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी त्रिदंडी जी महाराज और राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष रविन्द्र कुमार द्विवेदी के नेतृत्व सत्ता प्राप्ति हेतु प्रयासों को आगे बढ़ाने का आह्वान किया । एक अन्य राष्ट्रीय प्रवक्ता स्वामी करपात्री जी महाराज ने कहा कि संतों से ही राष्ट्र निर्माण होता है और संत समाज हिन्दू महासभा के सहयोग के लिए सदैव तत्पर है।
हिन्दू महिला सभा की राष्ट्रीय प्रभारी आरती दीक्षित, महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष सुवर्णा, गुजरात की प्रदेश अध्यक्ष वर्षा बेन ब्यास और उत्तर प्रदेश अध्यक्ष अर्चना तिवारी ने कहा की महिलाओं को संगठित करने से ही देश संगठित हो सकता है । महिलाओं और स्वच्छ छवि के नेताओं को हिन्दू महासभा से जोड़ने के साथ भ्रष्ट्राचार, बेरोजगारी और महिला आसुरक्षा के खिलाफ अभियान शुरू करने की अपील भी महिला नेताओं द्वारा की गई । हिन्दू विद्यार्थी सभा के राष्ट्रीय प्रभारी साईं प्रसाद भूंयार ने आरक्षण से जाति व्यवस्था समाप्त करने, गुरुकुल, शस्त्र और शास्त्र की पारंपरिक व्यवस्था को पुनः लागू करने का प्रस्ताव रखा । हिन्दू युवक सभा के राष्ट्रीय प्रभारी रोकी हिन्दुस्तानी ने युवा , महिला और विद्यार्थी प्रकोष्ठ की मजबूत बनाने की प्राथमिकता में शामिल करने का प्रस्ताव दिया।
हिन्दू महासभा उत्तर प्रदेश अध्यक्ष पियूष कांत वर्मा , प्रभारी ऋषि त्रिवेदी और प्रवक्ता पंकज तिवारी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव २०२२ की तैयारियों में जुटने, स्थाई चुनाव चिन्ह प्राप्त करने , जिला प्रभारी के मार्गदर्शन में जिला अध्यक्षों के निर्वाचन और प्रत्याशियों के चयन हेतु चयन समिति के गठन जैसे विषयों से राष्ट्रीय कार्यसमिति की अवगत करवाया। मध्य प्रदेश के कार्यकारी अध्यक्ष जितेंद्र सिंह ठाकुर ने हिन्दू हेल्पलाइन स्थापित कर हिन्दुओं को जागरूक बनाने और उनकी समस्याओं के समाधान के प्रयासों का विवरण देते हुए हेल्पलाइन को राष्ट्रीय स्तर पर विस्तार देने की योजना से अवगत करवाया । उत्तर पूर्वी भारत के प्रभारी डॉक्टर सुधाकर रॉय ने कहा जातिवाद और भाषावाद में विभाजित हिन्दुओं को एक करना अत्यंत कठिन कार्य हैं । इस कठिन कार्य को सामूहिक प्रयासों से संपन्न करने के बाद ही हम अखंड भारत हिन्दू राष्ट्र निर्माण का स्वप्न साकार कर सकते हैं।
राष्ट्रीय प्रवक्ता कामिनी झा ने बताया कि राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष रविन्द्र कुमार द्विवेदी ने अपने अध्यक्षीय संबोधन में राष्ट्रीय पदाधिकारियों और प्रदेश अध्यक्षों का स्वामी त्रिदंडी जी महाराज का एक वर्ष कार्यकाल विस्तार के प्रस्ताव को अनुमोदित करने आभार व्यक्त किया । उन्होंने कहा कि संविधान संशोधन समय की आवश्यकता है और संविधान संशोधन समिति से प्राप्त सिफारिशों को लागू किया जाएगा । उन्होंने हिन्दू महासभा की भावी योजनाओं की जानकारी देते हुए शीर्ष नेतृत्व विवाद का न्यायालय के माध्यम से शीघ्र समाधान होने का विश्वास जताया। 
रविन्द्र कुमार द्विवेदी ने अपने संबोधन में बैठक का ज़ूम पर संचालन कर रहे उत्तर प्रदेश महामंत्री अनुपम मिश्र के सफल संचालन और हिन्दू महासभा की वेबसाइट abhmindia.org का निर्माण करने पर उन्हें बधाई दी। वर्चुअल बैठक में उपरोक्त वक्ताओं के अतिरिक्त हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय मंत्री केशव चौहान, ओडिसा प्रदेश अध्यक्ष गीता छयानी , बिहार अध्यक्ष डॉक्टर पुरषोत्तम कुमार , पांडिचेरी के अध्यक्ष राजा थांडापाणी , गुजरात के प्रदेश अध्यक्ष मितेष पटेल , पश्चिम बंगाल के अध्यक्ष डॉक्टर दीपांकर घोष , हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष आर के शर्मा , हिन्दू महिला सभा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रजनी सक्सेना, पश्चिम बंगाल अध्यक्ष काकोली बाला, हिन्दू व्यापारी सभा के राष्ट्रीय प्रभारी आनंद देवपा, हिन्दू स्वराज्य सेना के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विजय नंदन पांडेय , अखिल भारत गौरक्षा महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेंद्र  खट्टर , हिन्दू युवक सभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दीपक कनोजिया, महाराष्ट्र अध्यक्ष नागेश चाटे और उत्तर प्रदेश अध्यक्ष गीरीबल प्रताप सिंह सहित 40 प्रतिनिधि शामिल हुए।