हिन्दू धर्म की छुआछूत की परम्परायें ही कोरोना का विनाश करेंगी : हिन्दू महासभा
April 14, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार मंगलवार 14 अप्रैल 2020 नई दिल्ली। हिन्दू महासभा  भवन, मन्दिर मार्ग पर हवन-पूजा के साथ बैशाखी और अखिल भारत हिन्दू महासभा का 105 वां स्थापना दिवस मनाया गया। इस अवसर पर अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री चन्द्रप्रकाश कौशिक जी ने देशवासियों को बैशाखी की शुभकामनायें देते हुए कहा कि हमें कोरोना महामारी से डरने की नहीं बल्कि उससे बचने की जरूरत है। हिन्दू धर्म की सनातन परम्परायें इस प्रकार के झंझावत और महामारियों से बचने में सक्षम है। हम हिन्दुओं की परम्पराओं का जो लोग मजाक उड़ाते थे उन्होंने मान लिया है कि हाथ नहीं मिलाना है, नमस्ते करनी है। जो अंग्रेज और ईसाई मिश्निरियां हमारी स्वच्छता शूचिता और पवित्रता को हिन्दू धर्म का भेदभाव बताते थे और कहते थे छुआछूत हिन्दू धर्म का अभिशाप है। आज जो उसी छुआछूत को मानकर सामाजिक दूरी बनाकर चल रहे हैं और संक्रमित व्यक्ति की छाया से भी दूर रहते हैं वह ही जिन्दा बच रहे है। 


श्री कौशिक ने सभी देशवासियों से अपील की कि हिन्दू धर्म की छुआछूत की परम्पराओं का पूर्ण रूप से पालन करें और हिन्दू धर्म की परम्पराओं को न मानने वाले व्यक्तियों से दूरी बनाकर रखें। सुबह को घर में धूप बत्ती करें और सन्ध्या को सरसों का तेल का दीया जलायें।
हिन्दू महासभा के 105वें स्थापना दिवस पर बधाई देते हुए दारा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मुकेश जैन ने कहा कि हम अपने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिखाये मार्ग पर चलकर कोरोना जैसी महामारी से लड़ने में सक्षम है। प्रधानमंत्री के आह्वान पर 5 अप्रैल को जैसे हर हिन्दुस्तानी ने दीये जलाये और पटाखें छुड़ाकर दीवाली मनाई, उससे पैदा हुई सल्फर डाइ आक्साइड ने पूरे देश से कोरोना के जीवाणुओं का सफाया करके कोरोना के संक्रमन को काफी हद तक रोका है।