हमीरपुर मे दो दिन पहले अपहृत की गई छात्रा को अधमरा कर फेंका
May 1, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 01 मई  2020, (आशीष निगम), हमीरपुर। कोतवाली क्षेत्र के एक गांव से दो दिन पूर्व लापता हुयी कक्षा नौ की छात्रा को आज मुंह मे कपडा ठूंसने के साथ उसके हाथ पैर बांध दिन के लगभग 11 बजे उसी के आंगन मे फेंका गया। घटना की सूचना पुलिस को दी गयी। मौके पर पहुंची पुलिस ने किशोरी की स्थिति देख उसे बेहोशी हालत मे कस्बे के सरकारी अस्पताला लाया गया।

जहां तमाम प्रयासों के बाद भी जब उसे होश नही आया तो स्थानीय चिकित्सालय से जिला चिकित्सालय हमीरपुर रिफर किया गया। अनुमान लगाया जा रहा है कि पीडित परिवार ने जब कुनेहटा पुलिस चौकी को इस घटना से सम्बन्धित गांव के एक युवक को नामित किया तभी पकडे जाने के भय से उसे कुछ बताने की स्थिति मे न छोड उसी घर मे उसे मरणासन्न अवस्था मे फेंका गया। गांव निवासी मोनू सिंह पर पीडित पक्ष ने आरोप लगाया था कि उसने किशोरी को मोबाईल दिया था और वह उससे बात चीत भी करता रहा है। परसो दिन मे घर सूना देख किशोरी लापता हो गयी। कल इस घटना की विधिवत सूचना पीडित पक्ष ने बिंवार थाने की कुनेहटा पुलिस चौकी मे दी थी। जिसमे कहा गया था कि गांव का मोनू सिंह कक्षा नौ मे पढाई करने वाली छात्रा को बहला फुसला कर ले गया। 
कुनेहटा चौकी प्रभारी आर एल सरोज ने बताया कि घटना की जांच पडताल करते हुये आरोपी को हिरासत मे लिया गया था व काल डिटेल निकलवाने पर आरोपी व किशोरी छात्रा के बीच लगातार बीतचीत जारी थी। इसी के बाद आज दिन मे 11 बजे उसको मुंह मे कपडा ठूंस हाथ पैर बांध उसी के घर मे मरणसन्न फेंक दिया गया। चर्चा यहां तक है कि किशोरी के साथ जबरन सामुहिक दुष्कर्म भी हुआ है। उक्त मामले का खुलासा किशोरी के होश मे आने के साथ जांच उपरान्त ही हो सकता है।