हमीरपुर के बिंवार थाने मे सुनवाई न होने के चलते छेडखानी सहित बाईक लूट के मामले भी पहुचे क्षेत्राधिकारी की चौखट पर
June 1, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 01 जून 2020, (आशीष निगम), हमीरपुर। बढते अपराध के ग्राफ पर लगाम लगाने मे बिंवार थाना पुलिस ने नायाब तरीका निकाला है। अपराध मे लगाम लगाने मे प्रयासरत फरियादियों के शिकायती पत्र भी स्वम व अपने हिसाब से लिख रही है। मामला चाहे लूट का हो अथवा छेडखानी का या कुछ और , बताया जाता है कि यहां बडे से बडे अपराध मे खाकीधारी एनसीआर दर्ज कर अपराध को कम करते हुये फरियादियो को टरकाने मे महारत हासिल करे है। जिसके चलते बिवार थानाक्षेत्र के फरियादी क्षेत्राधिकारी की चौखट पर दस्तक देकर न्याय की गुहार लगाते हुये लगातार अपना दुखडा सुना रहे है। आज पुनः छेडखानी के नये मामले मे एक बालिका ने क्षेत्राधिकारी मौदहा को शिकायती पत्र देते हुये आरोपी के विरूद्व कार्यवाही करने के साथ बिवार पुलिस पर मामला दबाने का आरोप लगाया है। 


यहां की एक बालिका ने क्षेत्राधिकारी मौदहा सौम्या पाण्डेय को तहरीर सौपते हुये बताया कि ग्राम नल मे पानी भरते समय अकेला पाकर जल्ला निवासी हरिश्चन्द्र उसे घर के अन्दर बुरी नियत से जबरन खींचकर ले गया व उसके कोमल अगां पर हाथ फेरते हुये उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास करने लगा। इस बीच वह लगातार बचाव का प्रयास करने के साथ मदद के लिये शोर मचाती रही जिसे सुनकर उसकी मां व गांव का एक व्यक्ति मौके पर पहुंचे व उसे हरिश्चन्द्र के चगुल से बचाते हुये आरोपी को पकडने का प्रयास किया  किन्तु आरोपी गाली गलौज करने साथ धमकी देता हुआ मौके से भाग निकला। मामले से सम्बन्धित शिकायती पत्र लेकर वह थाने गयी थी किन्तु उसका शिकायती पत्र ही नही लिया गया। इसके अतिरिक्त वहां के एक सिपाही ने दूसरी तहरीर बोल बोल कर लिखाई और किसी प्रकार की कोई कानूनी कार्यवाही नही की। जिसके चलते पीडित किशोरी ने क्षेत्राधिकारी मौदहा से न्याय की गुहार लगायी है। 
बताते चले कि बिंवार पुलिस द्वारा फरियादियो को गम्भीरता से लेने के बजाय उन्हे अनसुना कर टरकाने के चलते इसी माह छेडखानी सहित बाईक लूट का मामला भी लेकर क्षेत्राधिकारी की चौखट तक न्याय की उम्मीद से फरियादी पहुंच चुके है। जिसपर जांच जारी है।