एसिड पीड़ितों को मेरी काॅलेज में मिलेगी मुफ्त शिक्षा : प्रो.ललित अग्रवाल
March 6, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार शुक्रवार 06 मार्च 2020 नई दिल्ली। एमइआरआई ग्रुप आफ इंस्टीट्यूट में नामांकन लेने वाले एसिड पीड़ितों को निःशुल्क शिक्षा दी जायेगी। जनकपुरी स्थित काॅलेज समाभार में आयोजित एनुअल फेस्ट ला करमेसी में काॅलेज के वाइस प्रेसिडेंट प्रो.ललित अग्रवाल ने कहा कि रामकृष्ण सीनियर सेकेंडरी स्कूल, रामकृष्ण शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान, मेरी कालेज आफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलाॅजी, मेरी इंस्टीट्यूट आफ लाॅ एंड प्रोफेशनल स्ट्डीज, मैनेजमेंट एडूकेशन एंड रिसर्च  इंस्टीट्यूट में एसिड पीड़ित नामांकन के लिए आते है तो उन्हें पढ़ाई के लिए किसी भी तरह का शुल्क नहीं देना होगा। एसिड पीड़ितों की शिक्षा निःशुल्क होगी। उन्होंने कहा कि पीड़ितों को रिवाइव में मदद के लिए सभी को आगे आना चाहिए। हमारे मदद से पीड़ित बेटियों का हौसला बढ़ता है। कार्यक्रम में एसिड अटैक से पीड़ितों के कल्याण के लिए कार्य करने वाली छांव फाउंडेशन एवं स्तन कैेंसर से पीड़ितों के कल्याण के लिए कार्य करने वाली यश प्लस लाईंफ फाउडेशन के सदस्यों ने अपने संघर्षों की कहानी सभी को सुनायी। एसिड अटैक से पीड़ित रितू ने कहा कि एसिड अटैक से केवल लड़कियां ही नहीं बल्कि बच्चें और लड़के भी पीड़ित है। यह समाज के लिए एक कलंक है। इसे रोकने के लिए लोगों को मानसिकता बदलने की आवश्यकता है। 


दूसरी एसिड अटैक पीड़िता बिमला ने कहा कि जब उस पर एसिड अटैक हुआ तो कानूनी लफड़ों में फंसने के डर से किसी ने मदद नहीं किया। उन्होंने कहा कि एसिड का दर्द बहुत भयानक होता है। जो पीड़ित होता है, वहीं इसे महसूस करता सकता है। दोनों कैंसर सर्ववाइवर ने बताया कि एसिड के अटैक से बर्बाद हुई जिंदगी को रिवाइव करने में हमें आगे आने की आवश्यकता है। कार्यक्रम में स्तर कैंसर सरवाइवल डाॅ. नीति लेखा छावड़ा ने कहा कि स्तर कैंसर के बारे में जागरूकता फैलाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि व्यक्ति अपने जीवन में अनेक सपनों को देखता है लेकिन एक बीमारी के कारण सपने टूट जाते है। उन्होंने कहा कि किसी भी बीमारी को ठीक किया जा सकता है, लेकिन बीमार के हौसलों को बढ़ाने का काम समाज का है। कार्यक्रम में उन्होंने अपने संघर्ष के बारे में उपस्थित विद्यार्थियों को बताया। कार्यक्रम के शुभारंभ सत्र के अंत में काॅलेज के डीन प्रो. अनिक कुमार अग्रवाल ने सभी का आभार व्यक्त किया।