एप्‍लाइड आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस रिसर्च सेंटर आरम्भ 
October 14, 2020 • Daily Shabdawani Samachar


•       इंटेल, आईआईटी-हैदराबाद, पीएचएफआई और तेलंगाना सरकार ने मिलकर शुरू किया
• नया सेंटर हेल्‍थकेयर और स्‍मार्ट मोबिलिटी जैसे प्रमुख क्षेत्रों में भारतीयों के सामने आने वाली चुनौतियों का समाधान 
•      आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) के उपयोग पर करेगा ध्‍यान केंद्रित
• उद्योग, शैक्षणिक संस्‍थानों और सरकार के सहयोग से स्‍थापित 
•      सेंटर का उद्देश्‍य उच्‍च प्रभाव वाले अनुसंधान को अंजाम देना, बड़े पैमाने पर डेटासेट के निर्माण, एडवांस एआई, आईपी जनरेशन के जरिये टेक्‍नोलॉजी विकसित करना और उद्यमशीलता को बढ़ावा देना है। 
• एप्‍लाइड एआई रिसर्च सेंटर को all.ai 2020 वर्चुअल समिट और एआई फॉर यूथ सिम्‍पोजियम के उद्घाटन के दौरान शुरू किया गया।  

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 14 अक्टूबर 2020, नई दिल्ली। all.ai 2020 Virtual Summit के शुभारंभ अवसर पर, इंटेल इंडिया ने तेलंगाना सरकार, इंटरनेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंफोर्मेशन टेक्‍नोलॉजी, हैदराबाद (आईआईटी-एच) और पब्लिक हेल्‍थ फाउंडेशन ऑफ इंडिया (पीएचएफआई) के साथ मिलकर हैदराबाद में एक एप्‍लाइड एआई रिसर्च सेंटर आईएनएआई को शुरू करने की घोषणा की है। आईएनएआई, भारतीय संदर्भ में लोगों के सामने आने वाली चुनौतियों के समाधान के लिए एआई का उपयोग करने की एक पहल है। इसमें मजबूत पारिस्थितिकी तंत्र सहयोग के माध्‍यम से हेल्‍थकेयर और स्‍मार्ट मोबिलिटी क्षेत्र में समस्‍याओं की पहचान और उनके समाधान पर ध्‍यान केंद्रित किया जाएगा। आईएनएआई सोशल सेक्‍टर डेवलपमेंट की दिशा में उच्‍च प्रभाव वाले अनुसंधान के लिए वैश्विक कौशल को आकर्षित करने के उद्देश्‍य के साथ इन्‍नोवेशन और उद्यमशीलता को बढ़ावा देने, क्‍यूरेटेड डेटासेट्स, कम्‍प्‍यूटिंग इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर, टूल्‍स और फ्रेमवर्क जैसी राष्‍ट्रीय संपत्ति का निर्माण करने के जरिये एआई में भारत के नेतृत्‍व को गति देने के लिए एक उत्‍प्रेरक के रूप में काम करेगा। इंटेल और तेलंगाना सरकार द्वारा समर्थित व आईआईटी-एच में स्‍थापित यह सेंटर एक सहयोगात्‍मक प्रयास है, जो बड़े सामाजिक स्‍तर पर प्रभाव उत्‍पन्‍न करने वाले समाधानों पर काम करने के लिए कई संस्‍थानों को एक साथ लाता है। पीएचएफआई इस पहल में एक संस्‍थापक हेल्‍थकेयर पार्टनर है।  


यह क्‍यों जरूरी है: भारत में लगातार परिवर्तन जारी है, ऐसे में हेल्‍थकेयर, स्‍मार्ट मोबिलिटी और फ्यूचर ऑफ वर्क जैसे प्रमुख क्षेत्रों में देश की सामाजिक चुनौतियों को हल करने के लिए टेक्‍नोलॉजी-आधारित इन्‍नोवेशन को अपनाना महत्‍वपूर्ण हो जाता है। समय की मांग है कि उद्योग, सरकार, शैक्षणिक संस्‍थान और जनता टेक्‍नोलॉजी के विकास और इसके नैतिक एवं समावेशी तरीके से इनके अनुप्रयोग पर विचार के लिए मिलकर काम करें। आईएनएआई, टेक्‍नोलॉजी इन्‍नोवेशन, उद्यमशीलता विकास, रोजगार सृजन और अंतरराष्‍ट्रीय सहयोग में लक्षित परिणाम हासिल करने के लिए आईआईटी-एच की व्‍यापक कम्‍प्‍यूटिंग दक्षता और शैक्षणिक विशेषज्ञता, इंटेल की टेक्‍नोलॉजी लीडरशिप और आर्किटैक्‍चर क्षमता, पीएचएफआई की सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञता के साथ ही साथ अन्‍य क्षेत्रों के विशेषज्ञों एवं टेक्‍नोलॉजी खिलाडि़यों की विशेषज्ञता का लाभ उठाएगा। आईएनएआई का उद्घाटन करते हुए, श्री के.टी. रामाराव, माननीय आईटी, उद्योग, एमए और यूडी मंत्री, तेलंगाना सरकार ने कहा, “हैदराबाद में एप्‍लाइड एआई रिसर्च सेंटर आईएनएआई की शुरुआत, हमारी डिजिटल बनने की यात्रा में एक महत्‍वपूर्ण मील का पत्‍थर है। मेरा यह दृढ़ता से मानना है कि बेहतर प्रशासन और अपने लोगों के जीवन की गुणवत्‍ता को बढ़ाने के लिए एआई उपयोग के सपने को साकार करने के लिए समन्वित प्रयास के साथ सभी ईकोसिस्‍टम हितधारकों के लिए मिलकर काम करना बहुत महत्‍वपूर्ण है।
इस अवसर पर बोलते हुए, निवरुति राय, कंट्री हेड, इंटेल इंडिया और वाइस प्रेसिडेंट, डाटा प्‍लेटफॉर्म्‍स ग्रुप, इंटेल कॉरपोरेशन ने कहा, “अपनी विशिष्‍ट कौशल क्षमता, टेक्‍नोलॉजी, डेटा उपलब्‍धता और बड़े पैमाने पर एआई अपनाने की क्षमता के साथ, भारत के पास मानव-केंद्रित अनुप्रयोगों का नेतृत्‍व करने और उन्‍हें पूरी दूनिया के सामने प्रदर्शित करने का शानदार अवसर है। हमारी इच्‍छा एआई को भारत का पर्याय बनाना है क्‍योंकि हम इन्‍नोवेशन, रिसर्च, टेक्‍नोलॉजी और कौशल को आगे बढ़ाकर हेल्‍थकेयर, स्‍मार्ट मोबिलिटी और फ्यूचर ऑफ वर्क जैसे महत्‍वपूर्ण क्षेत्रों में एआई की वास्‍तविक क्षमता को हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं। एप्‍लाइड एआई रिसर्च सेंटर छात्रों को एआई रेडीनेस कौशल का प्रशिक्षण देगा और all.ai 2020 समिट एक समावेशी, सहयोगी और जिम्‍मेदारी तरीके से एआई के प्रभाव को महसूस कराने की दिशा में हमारी प्रतिबद्धता को मजबूत बनाता है। स्‍मार्ट मोबिलिटी क्षेत्र में, आईएनएआई देश में सड़क दुर्घटनाओं और मृत्‍यु दर में कमी लाने के लिए एआई का इस्‍तेमाल करने के लक्ष्‍य के साथ सड़क सुरक्षा के क्षूत्र में अनुसंधान को आगे बढ़ाएगा। सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य के क्षेत्र में, यह सेंटर हर व्‍यक्ति तक स्‍वास्‍थ्‍य सेवा पहुंचाने के लिए समाधान खोजने और गैर-संचारी रोगों की बेहतर भविष्‍वणी के लिए एडवांस रिसर्च के लिए काम करेगा। 


all.ai 2020 वर्चुअल समिट और एआई फॉर यूथ सिम्‍पोजियम के बारे में: 12 से 16 अक्‍टूबर, 2020 तक all.ai 2020 Virtual Summit शिखर सम्‍मेलन का आयोजन इंटेल इंडिया द्वारा उद्योगों, शैक्षणिक संस्‍थानों और सरकार के साथ मिलकर बड़े पैमाने पर समस्‍याओं को हल करने के लिए एआई का लाभ उठाने की संभावनाओं का पता लगाने के लिए किया जा रहा है। यह वर्चुअल शिखर सम्‍मेलन बड़े-पैमाने पर कौशल, एप्‍लाइड रिसर्च और सहायक नीति के माध्‍यम से एआई समाधान विकसित करने की भारत की विशाल क्षमता पर केंद्रित होगा, जिसमें युवा कौशल, हेल्‍थकेयर, मोबिलिटी और फ्यूचर ऑफ वर्क पर परिचर्चा की जाएगी। कार्यक्रम में एआई फॉर यूथ वर्चुअल सिम्‍पोजियम भी शामिल है, जो 10,000 से अधिक युवाओं को एआई रेडीनेस कौशल, एक प्रभावी अनुभव हासिल करने और अपने समकक्षों द्वारा तैयार एआई सोशल इम्‍पैक्‍ट प्रोजेक्‍ट को देखने का अवसर प्रदान करेगा।