दिल्ली के उपराज्यपाल ने प्रधानमंत्री के अनलाॅकडाउन 1 नियमों को लागू करने पर सभी हिन्दू संगठनों ने उपराज्यपाल की प्रशंसा किया 
June 9, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 09 जून 2020, नई दिल्ली। धर्म रक्षक श्री दारा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मुकेश जैन की अध्यक्षता में चुनिंदा हिन्दू संगठनों की आक्समिक बैठक में खुशी व्यक्त की कि दिल्ली के उपराज्यपाल श्री अनिल बैजल साहब ने अपनी दिल्ली को वक्त रहते संभाल लिया। हिन्दू संगठनों ने आशा व्यक्त की कि अब दिल्ली जल्द ही कोरोना से मुक्त हो जायेगी।
बैठक में और दारा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मुकेश जैन ने कहा कि जिस प्रकार से दिल्ली में कोरानों के हालात बद से बदतर होते जा रहे थे और केजरीवाल सरकार प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बताये लाॅकडाउन के नियमों को तोड़कर लगातार वो सब कर रही थी जिससे 1 प्रतिशत जनसंख्या वाली दिल्ली 10 प्रतिशत कोरोना मरीज दे रही है। यह सब दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल कोरोना फैलाने की नक्सली ईसाई आतंकवादी साजिश के तहत कर रहे थे। इसी कोरोना फैलाने की देशद्रोही साजिश के तहत दिल्ली के रैन बसेरों में केवल 8 हजार व्यक्ति होने के बाद भी केजरीवाल 8 लाख लोगों को कोराना संक्रमित खाना खिला रही है। इसके अलावा केजरीवाल सरकार धार्मिक आधार पर जिस प्रकार से भेदभाव करके राशन कार्ड न रखने वाले मुसलमानों को ही राशन दे रही है। मस्जिदों के इमामों और मुअज्जिमों को 16 से 18 हजार रुपयें प्रतिमाह दे रही है ताकि भूखा मन्दिर का पुजारी और हिन्दू उसके स्कूलों का कोरोना ग्रस्त खाना खाकर कोरोना का मरीज बनकर मरे और उसका मुस्लिम बोट प्रतिशत बढ़े।


आई आई टी इंजीनियर श्री मुकेश जैन ने कोरोना ग्रस्त दिल्ली के हालात सुधारने के लिये केन्द्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह जी और महामहिम उपराज्यपाल श्री अनिल बैजल जी को सुझाव दिया कि सबसे पहले घर परिवार में रहने वालों को पका खाना बांटना बन्द करके उन्हे राशन दिलाने की कृपा करें। इसी के साथ दिल्ली में पीपीए किट सहित सारा कूड़ा पत्तिया जला दी जाये। इस कूड़े के इधर-उधर फैलने से बढ़ रहा कोरोना संक्रमण न केवल रूकेगा बल्कि इसके जलाने से वातावरण में जीवाणुनाशक गैस सल्फर डाई आक्साइड और कार्बन मोनो आक्साइड की बढ़ी मात्रा भी कोरोना के विषाणुओं का चीन की तरह ही विनाश कर देगी।
हिन्दू संगठनों ने दृढ़ निश्चय प्रकट किया कि उपराज्यपाल श्री अनिल बैजल द्वारा अपना संवैधानिक कर्तव्य सम्भालने से न केवल दिल्ली के हालात बेहतर होंगे बल्कि दिल्ली में कूड़ा जलाने को प्रतिबन्धित करने वाला कोई भी कानून न होने के बावजूद भी कूड़ा न जलाने पर प्रतिबन्ध लगाने वाली सी आई ए के ऐजेन्ट एन जी टी के चैयरमैन स्वत्रन्त्र कुमार द्वारा रची गयी महामारी फैलाने की साजिश भी नेस्तनाबूत होगी।