बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए
July 21, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 21 जुलाई 2020, नई दिल्ली। भारत सरकार ने 59 चीनी ऐप्स के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया है, जिसके बाद से यूज़र्स को अपनी मूल भाषा में 3-5 मिनट का मूल कंटेंट वीडियो बनाने की सुविधा देने वाले लाइफस्टाइल ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म, ट्रेल का यूज़र बेस काफ़ी बढ़ गया है, जिसमें टिअर 1 और टिअर 2 शहरों में 5 मिलियन नए कंटेंट निर्माता जुड़े हैं। इस बैन के बाद से प्लेटफॉर्म 10 गुना बढ़ गया है, जिसका कुल यूज़र बेस 45 मिलियन+ है। प्लेटफार्म के कुछ शीर्ष शहरों में लखनऊ, चंडीगढ़, जयपुर, मैसूरु, विशाखापट्टनम, गुवाहाटी शामिल हैं।
530 मिलियन से अधिक इंटरनेट यूज़र्स के साथ, भारत आज दुनिया में दूसरा सबसे बड़ा इंटरनेट यूज़र बेस है। ज़िनोव की एक रिपोर्ट के अनुसार, टिअर-2 के 80% और टिअर-3 के 80% उत्तरदाताओं ने ऑनलाइन कंटेंट के लिए अपने पसंदीदा प्लेटफॉर्म के रूप में मोबाइल को चुना। इसके अलावा, 68% से अधिक यूज़र्स ने टेक्स्ट-आधारित कंटेंट की तुलना में वीडियो-आधारित कंटेंट को चुना।
ट्रेल भारत के वीडियो पिन्ट्रेस्ट के रूप में जाना जाता है। यह यूज़र्स को स्वास्थ्य और फिटनेस, सौंदर्य और स्किनकेयर, यात्रा, फिल्म समीक्षा, खाना पकाने, घर की सजावट और कई अन्य श्रेणियों में अपने अनुभव, सिफारिशों और समीक्षाएं साझा करने की सुविधा देता है। देश के विभिन्न हिस्सों के लोगों ने इस प्लेटफार्म पर कंटेंट बनाने और देखने के तरीके में अपनी दिलचस्पी दिखाई है। उत्तरी और उत्तर पूर्वी शहरों ने पर्सनल केयर, फ़ैशन और फ़ूड जैसी दिलचस्पी दिखाई है। दक्षिण भारत के यूज़र्स ने रेसिपी, गैजेट और योग (हेल्थ और फ़िटनेस) के लिए उत्साह दिखायाा है। पश्चिमी भाग की महिलाएं और पुरुष स्किनकेयर और फ़ैशन कंटेंट पसंद करते हैं। इसके अलावा, प्लेटफ़ॉर्म यूज़र्स को अपने इंटरफेस के ज़रिये पुरस्कार, उपहार और छुट्टियां कमाने की सुविधा भी देता है।
इस बढ़ती संख्या पर बात करते हुए, ट्रेल के सह-संस्थापक, पुलकित अग्रवाल ने कहा, “हमने अपने भारतीय समुदाय को असाधारण वृद्धि करते और समर्थन देते देखा है। इस बिंदु पर हम यह सुनिश्चित करने पर ध्यान दे रहे हैं कि हमारा समुदाय बढ़ता रहे और हमारे यूज़र्स को अपने जैसी विचारधारा वाले दर्शकों के साथ अपनी लाइफ़स्टाइल टिप्स, कहानियां और अनुभव शेयर करने का बेजोड़ अनुभव मिले। हम कई भारतीय भाषाओं में कंटेंट क्रिएटर (KOL) और उनके दर्शकों की दिलचस्पी और जोश आधारित कम्यूनिटी बनाने पर ध्यान दे रहे हैं, ताकि हमारे यूज़र्स को बेहतर जानकारी मिले और वे लाइफ़स्टाइल से संबंधित बेहतर विकल्पों के लिए उपयुक्त खरीदी कर सकें।


हाल ही में, ट्रेल ने भारत में सोशल मीडिया दिग्गज ट्विटर और पिन्ट्रेस्ट के एक्टिव यूज़र्स की संख्या को पार कर दिया है। 2017 में अपनी स्थापना के बाद से, ट्रेल देश भर में अपनी मातृभाषा में बात करने वाले उपभोक्ताओं की लाइफ़स्टाइल कंटेंट की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है, जिसके 62% से अधिक यूज़र्स टियर-2 और टियर-3 शहरों से हैं। ट्रेल ने हाल ही में अपने प्लेटफार्म में तीन नई भाषाएं जोड़ी है; मराठी, कन्नड़ और बंगाली, यानि अब यह कुल 8 भाषाओं (इसके अलावा, हिंदी, अंग्रेजी, तमिल, तेलुगु, मलयालम) में उपलब्ध है।  अगले कुछ महीनों में, ट्रेल ने इन नए KOL और यूज़र्स पर ध्यान देने की योजना बनाई है और यह सुनिश्चित करना चाहता है कि प्लेटफ़ॉर्म यूज़र्स के लिए उनका अनुभव सहज और कुशल हो। ट्रेल ने ऐप पर विभिन्न नई सुविधाएं और टूल्स लॉन्च करने की योजना भी बनाई है, जैसे कि 'टॉक शो होस्टिंग', 'रिएक्शन वीडियो मेकर', ताकि कंटेंट क्रिएटर ज़्यादा लोगों को आकर्षित कर सके, और नए अर्थपूर्ण कंटेंट बना सकें।