अपने घर में सुकून के साथ कहिए, लाइट, कैमरा, एक्शन
April 30, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार वीरवार 30 अप्रैल 2020 नई दिल्ली। हम सभी सिनेमा हॉल में जाकर पॉपकॉर्न खाते हुए अपनी पसंदीदा फिल्में देखने की कमी महसूस कर रहे हैं। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम सिनेमा जैसा अनुभव घर पर प्राप्त नहीं कर सकते। इसे ध्यान में रखते हुए डॉल्बी कुछ ऐसे हैक्स और ट्रिक्स लेकर आया है, जिससे आप सिर्फ कुछ आसान स्टेप्स के साथ अपने लिविंग रूम में ही सिनेमाई अनुभव प्राप्त कर सकते हैं!


1  लाइट्स, कैमरा लेकिन तस्वीर साफ नहीं यदि आप खास पलों में कुछ बेहतरीन देखना चाहते हैं, तो जब भी आप शुरूआत करें तब उस कमरे की रोशनी पर जरूर ध्यान दें क्योंकि यह आपके देखने के अनुभव को प्रभावित कर सकता है।
लाइटिंग के टिप्स + ट्रिक्स:
शनि यदि आप वास्तव में अपने पसंदीदा शो में खो जाना चाहते हैं, तो आपको अपने कमरे में यथासंभव अंधेरा करना होगा। प्राकृतिक रोशनी को कम करने के लिए पर्दे का उपयोग करने की कोशिश करें और कमरे के सभी लैंप को बंद कर दें। अपना टीवी किसी खिड़की के बगल में न रखें। सुनिश्चित करें कि आपके सभी गैजेट - वाईफ़ाई राउटर, स्मार्ट स्पीकर इत्यादि - अनजाने में आपकी स्क्रीन पर अवांछित प्रकाश तो नहीं डाल रहे हैं। ध्यान दें कि ये प्रकाश स्रोत कहीं आपके ठीक सामने तो नहीं हैं, और यदि ऐसा है तो उन्हें बंद कर दें क्योंकि ये आपको डिस्टर्ब कर सकते हैं।
2 अपने इनपुट और स्ट्रीमिंग प्रोफाइल को कस्टमाइज़ करें यदि आप किसी कॉन्फ्रेंस कॉल की जल्दी में हों या फिर डिनर बना रहे हों, तो अपने इनपुट स्रोतों को कस्टमाइज करते हुए ध्यान रखें कि आपके बच्चों या माता पिता के मनोरंजन में कोई भी बाधा न पड़े, खासतौर पर तब जब आपके टीवी और स्ट्रीमिंग प्राफाइल्स में कई अन्य डिवाइस भी जुड़े हों।
इनपुट टिप्स + ट्रिक्स: अधिकांश टीवी यूजर्स
अधिकांश टीवी यूजर्स को प्रत्येक इनपुट्स के लिए कोई खास नाम देने की सुविधा देते हैं, उदाहरण के लिए - "रशेल का एक्सबॉक्स," "केबल टीवी," या "ब्लू-रे प्लेयर" एक और आसान टिप, खासकर तब जब आपके घर में आपका स्ट्रीमिंग अकाउंट कई लोग उपयोग करते हैं, तो ऐसे में कौन क्या देखना चाहता है इसके आधार पर कई अकाउंट प्रोफाइल बनाएं, जैसे "कार्टून," "दादी के लिए," "माता-पिता" आदि - जिससे वे अपनी पसंदीदा चीजें आसानी से देख सकें।
3 दूरी का ध्यान रखें
दोस्तों और परिवार के साथ वर्चुअल कॉल्स के समय या अपने पसंदीदा शो को देखते समय, आपके टीवी से आपके सोफे तक की दूरी आपके देखने के अनुभव में बड़ा फर्क डालती है। यदि आपका टीवी बहुत दूर है, तो आपकी पिक्चर क्वालिटी प्रभावित हो सकती है और चीजें बेहतर नहीं दिखेंगी। यहां बात स्पष्टता की है, इसलिए फिल्म थियेटर के ठीक उलट, करीब = अच्छा ©
यदि आपके सोफे और टीवी के बीच की दूरी तीन पिक्चर हाइट्स ++ से अधिक है, तो तस्वीर स्पष्ट दिखाई नहीं देगी। यदि आप 4K में फिल्में या टीवी शो देख रहे हैं, तो आप इस दूरी को और भी कम करना चाहेंगे।
पिक्चर हाइट का मतलब आपकी स्क्रीन की ऊपर और नीचे के बीच की दूरी है।
4 घर पर कैसे मिले शानदार आवाज जो किसी अन्य के लिए टॉर्चर न हो जहां कई परिवार काम और स्कूल की बैठकों के लिए स्क्रीन टाइम के साथ तालमेल बिठा रहे हैं, ऐसे में आपके टीवी या ऑडियो सिस्टम के प्लेसमेंट का आपके ऑडियो अनुभवों की गुणवत्ता और परिवार की सेहत पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ेगा।
साउंड टिप्स + ट्रिक्स:
सुनिश्चित करें कि आपका टीवी एक सतह की तरह पर या उसके ऊपर रखा गया है ताकि आप आवाज पूरे कमरे में जा सके० अधिकांश नए टीवी में पैनल के पीछे स्पीकर होते हैं और उन्हें नीचे की दिशा में लगाया जाता __ है। यदि ध्वनि को प्रतिबिंबित करने में मदद करने के लिए आपके पास कोई सतह नहीं है, तो ऑडियो गुणवत्ता खराब हो जाएगीयदि आपका कमरा बहुत अधिक गूंजता है, तो गलीचा बिछाएं या कमरे की दीवारों पर कोई आर्ट पीस को लटकाएं। जिससे आवाज को अवशोषित करने में मदद मिलेगी।
यदि आपके पास साउंड बार है, तो सुनिश्चित करें कि यह दीवार के साथ सटा होने के बजाय आपके टीवी टेबल के किनारे पर लगाया या रखा गया हो - इस तरह, ऑडियो आपके टीवी से आने की बजाए कमरे में चारों ओर फैल जाएगीसमझ नहीं आ रहा कि सबवूफर कहां रखें? सब वूफर चारों ओर आवाज देते हैं, जिसका अर्थ है कि उनकी आवाज एक कमरे में सभी ओर गूंजती हैं। तो, आप इसे कहीं भी रख सकते हैं - लेकिन इसे दीवार के पास या किसी ऐसी वस्तु के पास न रखें, जो खड़खड़ाए (आपके खास लोग और पड़ोसी आपको इसके लिए धन्यवाद देंगे)।
5 टीवी की सेटिंग बहुत जरूरी है - जिस तरह आप प्रत्येक सोशल मीडिया पोस्ट पर शायद ही कभी एक ही फ़िल्टर का उपयोग करते हैं, उसी तरह आप हर तरह के प्रोग्राम के लिए एक ही टीवी सेटिंग्स नहीं चाहेंगे। ऐसे में, यदि आप अपनी पसंदीदा फिल्म की बजाए स्पोर्ट क्लासिक्स देखना शुरू करते हैं, तो आप देखने के बेहतर अनुभव के लिए अपनी टीवी सेटिंग्स को कस्टमाइज्ड कर सकते हैं।
टीवी सेटिंग टिप्स + ट्रिक्स (अधिकांश टीवी में ये सामान्य सेटिंग्स होती हैं): • सिनेमा या मूवी मोड - जो लोग एक साफ तस्वीर की तलाश में हैं। सिनेमा या मूवी मोड - जो लोग एक साफ तस्वीर की तलाश में हैं विविड मोड-एक ही समय में सैचुरेशन और ब्राइटनेस बढ़ा देता है, लेकिन इससे तस्वीर की स्पष्टता खो सकती है स्पोर्ट मोड- स्पोर्ट और लाइव मनोरंजन के अन्य रूप को बेहतर बनाता है स्टैंडर्ड मोड - इस मोड में ऊपर दिए गए सभी मोड्स के बीच संतुलन होता है। और गेमर्स के लिए, कई टीवी में एक "गेमिंग मोड" शामिल होता है। यह वास्तव में आपके टीवी के कुछ फीचर्स को बंद कर देता है, ताकि इसकी इंटरनल प्रोसेसिंग को गति दी जा सके, इससे संभावित देरी को कम किया जा सकता है और गेमिंग का अतिरिक्त मजा मिल सकता है।
प्रोटिप: निर्णय लेने से पहले खुद को एडजस्ट करने के लिए कम से कम 15-30 मिनट तक प्रत्येक मोड देखें।
तो, लॉकडाउन का भरपूर लुत्फ उठाएं और अपने घर के आराम में एक सिनेमाई अनुभव का आनंद लें और याद रखें कि घर में रहें, सुरक्षित रहें।