अक्षय तृतीया पर पालघर के संतों को देश के सभी धर्मों के संतों ने दी श्रद्धांजलि 
April 29, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार बुधवार 29 अप्रैल 2020 नई दिल्ली। जूना अखाड़ा के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी, रामकथा वाचक मोरारी बापू, निम्बार्काचार्य श्रीजी महाराज, जगतगुरू श्रीधराचार्य महाराज, रमेशभाई ओझा भाईश्री,  स्वामी चिदानंद सरस्वती, अविचलदासजी महाराज, सद्गुरू ब्रह्मेशानंदाचार्य, देवकीनंदन ठाकुरजी, ब्रह्मचारी गिरीशजी महाराजी.  इमाम उमेर अहमद इलियासी, आचार्य लोकेश मुनि, पुण्डरीकजी महाराज, संजीवकृष्ण ठाकुर, देवी चित्रलेखा, युवाचार्य अभयदास, इंद्रेशजी महाराज, माता हंसा जी, माता अमृतानंदमयी, साध्वी भगवती, पंचानन गिरीजी महाराज के संग सैकड़ों संतों और देश के एक लाख से ज्यादा लोगों ने पालघर के संतों की याद में अक्षय तृतीया पर एक दिया जलाया।


देश की सभी धर्मों की एकमात्र वेबसाइट रिलीजन वर्ल्ड ने पालघर के संतों को श्रद्धांजलि देने का आह्वान किया था। 26 अप्रैल शाम 6 बजे अक्षय तृतीया के दिन पालघर के संतों को दो मिनट की मौन श्रद्धांजलि देने की अपील की गई थी। इस आह्वान को देश के बहुत सारे संतों ने समर्थन दिया और सबको प्रेरित भी किया।
ट्विटर पर इसके लिए बने टैग – एकदियासंतोंकेनाम को अस्सी हजार लोगों ने प्रयोग किया। महर्षि महेश योगी विद्यापीठ के 1400 विद्यार्थियों ने इसमें हिस्सा लिया। परमार्थ निकेतन में सैकड़ों विदेशियों ने दिया जलाया।  
महाराष्ट्र के पालघर में हिंसक भीड ने पुलिसकर्मियों के सामने ही बर्बर तरीके से ‘श्री पंच दशनाम जूना अखाडा’ के संत कल्‍पवृक्षगिरी महाराज एवं सुशीलगिरी महाराज, साथ ही उनके वाहनचालक नीलेश तलगाडे की निर्मम हत्‍या कर दी गयी।