ऊबर चाइल्डलाईन 1098 को उपलब्ध कराएगा 30,000 निःशुल्क राईड्स
October 15, 2020 • Daily Shabdawani Samachar

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 15 अक्टूबर 2020, गुरूग्राम। ऊबर ने चाइल्डलाईन 1098 का संचालन करने वाली नोडल एजेन्सी चाइल्डलाईन इंडिया फाउन्डेशन के साथ साझेदारी की घोषणा की है, जिसे केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय का समर्थन प्राप्त है। चाइल्डलाईन 1098 यह बच्चों के लिए एकमात्र राष्ट्रीय एमरजेन्सी हेल्पलाईन सर्विस है, इस साझेदारी के तहत ऊबर बच्चों को सहयोग प्रदान करने वाले, उनकी देखभाल करने वाले पेशेवरों को 30,000 निःशुल्क राईड्स मुहैया कराएगा।  अक्टूबर से दिसम्बर 2020 के बीच रु 63 लाख कीमत का यह एसोसिएशन ऊबर के संचालन के सभी 83 भारतीय शहरों में विस्तारित होगा। इसके तहत दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, बैंगलुरू और चेन्नई, जहां सीआईएफ अपने कॉन्टैक्ट सेंटर चलाती है वहां चाइल्डलाईन 1098 के कर्मचारियों को मोबिलिटी में भी सहयोग प्रदान किया जाएगा।


ऊबर के प्रयासों पर बात करते हुए प्रभजीत सिंह, प्रेज़ीडेन्ट, ऊबर इंडिया और साउथ एशिया ने कहा, ‘‘चाइल्डलाईन 1098 के साथ साझेदारी करते हुए हमें बेहद खुशी का अनुभव हो रहा है, यह एक ऐसा फोन नंबर है जो देश के लाखों बच्चों के लिए उम्मीद की किरण है और भारत के इन नागरिकों के उज्जवल भविष्य की दिशा में काम करता है। ऊबर में हम, देश के इन सबसे संवेदनशील नागरिकों के सहयोग के लिए प्रतिबद्ध हैं, जिन पर कोविड-19 महामारी का सबसे ज़्यादा असर हुआ है। चाइल्डलाईन 1098 के साथ यह साझेदारी हमें उन बच्चों के जीवन में बदलाव लाने का मौका प्रदान करेगी, जो खुद अपनी मदद करने में सक्षम नहीं हैं।
इस साझेदारी के बारे में बात करते हुए डॉ अंजिया पंडिरी, एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर, चाइल्डलाईन इंडिया फाउन्डेशन ने कहा, ‘‘हमें खुशी है कि चाइल्डलाईन कॉन्टैक्ट सेंटरों में चाइल्डलाईन के फर्स्ट रिस्पॉन्डर्स को सहयोग प्रदान करने, रेलवे स्टेशनों और ज़िलों की चाइल्डलाईन युनिट्स एवं देश भर के चाइल्डलाईन प्रोग्राम टीमों को परिवहन के सुरक्षित विकल्प कराने के लिए हमें ऊबर इंडिया के साथ साझेदारी का मौका मिला है। उनके सहयोग से हम इन संवेदनशील बच्चों तक पहुंच सकेंगे और उन तक आवश्यक स्थान  एवं समय पर मदद पहुंचा सकेंगे। हमें खुशी है कि बच्चों को सुरक्षित रखने और उनकी मदद करने के हमारे इस मिशन के लिए ऊबर जैसे कॉर्पोरेट पार्टनर ने हमारे साथ हाथ मिलाए हैं।


महामारी की शुरूआत के बाद से ऊबर ने स्थानीय अधिकारियों, सिविल सोसाइटी संगठनों, राज्य सरकारों एवं मुख्यमंत्री कार्यालय को समर्थन प्रदान करने के लिए कई पहलों का लॉन्च किया है। इसी पहल के तहत ऊबर ने हाल ही में वंचित बुजु़र्गों को राईड्स उपलब्ध कराने के लिए हैल्पेज इंडिया के साथ तथा सिविक सोसाइटी के सबसे बड़े भोजन राहत प्रयासों के लिए रोबिनहुड आर्मी के साथ साझेदारी की है। ऊबर ने देशभर में फ्रंटलाईन स्वास्थ्यकर्मियों और स्वयंसेवियों के परिवहन के लिए विभिन्न शहरों एवं राज्य सरकारों तथा राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण को 280,000 निःशुल्क राईड्स उपलब्ध कराई हैं। ये मुफ्त राईडस ऊबर द्वारा स्वास्थ्यकर्मियों, बुजुर्गों व जरूरतमंद लोगों को 10 मिलियन मुफ्त राईडस व फूड डिलीवरी डोनेट करने के ऊबर की ग्लोबल प्रतिबद्धता का हिस्सा हैं।